राजगढ़ (नवदुनिया प्रतिनिधि)। कोविड को देखतेहुए जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा तैयारियों को तेज कर दी गई है।जिसके तहत यह तय किया गया है कि जिले के समस्त दुकानदारों को आगामी 3 दिवस में दुकान पर कार्य करने वाले समस्त कर्मचारियों का द्वितीय डोज का वैक्सिनेशन करवाना होगा। यह नहीं करवाने की स्थिति में सीधी कार्रवाई की जाएगी।

उल्लेखनीय है कि कोविड को देखते हुए लगातार आपदा प्रबंधन समितियों की बैठकों का आयोजन किया जा रहा है। ऐसे में तय किया गया है कि निजी दुकानों, शोरूम, सर्विस सेंटर, माल सहित अन्य स्थानों पर कार्यरत प्रतिष्ठानों के मालिकों के साथ-साथ वहां काम करने वाले कर्मचारियों को भी हर हाल में तीन दिन के भीतर दूसरा डोज लगवाना होगा, ताकि खुद व ग्राहक दोनों सुरिक्षत रह सके। यदि कर्मचारियों के दूसरा डोज लगा नहीं मिला तो संबंधित संस्थाओं के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। निर्देश दिए गए कि दुकानों, शोरूम, निजी कार्यालय सहित जहां भी कर्मचारी काम कर रहे हैं वहां पर कर्मचारियों के दूसरे डोज लगे होना चाहिए। यदि नहीं लगे हों तो समय रहते अनिवार्य रूप से लगवाए।

जीएनएमटीसी में बनेगा 50 बिस्तरीय कोविड केयर सेंटर

पूर्व की भांति जिला चिकित्सालय में स्थित जीएनएमटीसी में 50 बिस्तरीय कोविड केयर सेंटर की व्यवस्था की जाएगी। इसके लिए आवश्यक निर्देश कलेक्टर हर्ष दीक्षित द्वारा सीएमएचओ को दिए हैं। साथ ही जिला चिकित्सालय में यूएसएड की सहायता से संचालित किये जा रहे प्री फैब्रिकेटेड वार्डस का उपयोग आवश्यकता पड़ने पर उनमें से एक वार्ड बच्चों एवं एक वार्ड व्यस्कों हेतु कोरोना के इलाज के लिये समर्पित रूप से रखें जाएगा। जरूरत के समय उनका उपयोग किया जाएगा।

आक्सीजन प्लांट पर तनात होंगे होमगार्ड सैनिक

जिला चिकित्सालय परिसर में कोविड-19 हेतु पृथक से कन्ट्रोल रूम स्थापित किया जाए जिनमें 24 घंटे क्रमबद्ध रूप से कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई जाएगी। स्थापित कोरोना कंट्रोल रूम एवं दूरभाष क्रमांक का व्यापक प्रचार-प्रसार भी किया जाएगा। जिला चिकित्सालय परिसर में स्थापित आक्सीजन प्लांट एवं खंड स्तर पर स्थापित आक्सीजन प्लांटों में रात्रि में होमगार्ड सैनिकों की तैनाती सुनिश्चित की जाएगी। कोरोना के नये वेरिएंट ओमिक्रान के दृष्टिगत समस्त चिकित्सीय अमला, मेडिकल, पैरामेडिकल एवं अनय सहायक स्टॉफ को कोरोना प्रोटोकॉल, ट्रीटमेंट के संबंध में पुन? प्रशिक्षण प्रदाय किया जाए। प्रशिक्षण संबंधी कार्यवाही आगामी 7 दिवस में अनिवार्यत? पूर्ण की जाए।

स्वास्थ्य सेवाओं के लिए बनेगा डयूटी रोस्टर

यदि आने वाले समय में कोरोना के नये वेरिएंट का संक्रमण फैलता है तो पूर्व की भांति चिकित्सक, पैरामेडिकल स्टॉफ एवं अन्य सहयोगी स्टॉफ के माध्यम से 24 घंटे स्वास्थ्य सेवाओं की समय पर उपलब्धता सुनिश्चित की जाने हेतु उनका रोस्टर तैयार कर चिकित्सीय सुविधाओं की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local