राजगढ़। बोर भाजी, आंवला-कृष्ण देव सांवला... के साथ चार माह से शयन में चल रहे देव आज देर शाम को जाग जाएंगे। देवों के शयन से जागने के साथ ही शुभ तथा मांगलिक कार्य शुरू हो जाएंगे। इसको लेकर नागरिकों द्वारा व्यापक स्तर पर तैयारियां की जा रही है। आज जिलेभर में शुभ मुहुर्त में देवों को शयन से जगाया जाएगा।

देवों के शयन में जाने के चलते जिलेभर में शुभ एवं मांगलिक कार्यों पर रोक लग गई थी। शादी-विवाह, सगाई, गृह प्रवेश सहित अन्य मांगलिक काम बंद हो गए थे। लेकिन आज देर शाम को देवों के शयन से जगाने के बाद फिर से उक्त रूके हुए शुभ एवं मांगलिक कार्य शुरू हो जाएंगे। भगवान को उठो देव सांवला...बोर फली आंवला..के सााथ जगाया जाएगा। देवों को जगाने के लिए ज्वार एवं गन्नो के मण्डप सजाए जाएंगे। इसी के साथ् उन्हें बेर, सिंगाड़े, बैगन, मैथी, मूली जैसी सामग्री का भी भोग लगाया जाएगा। ऐसी मान्यता है कि उक्त सामग्री तब तक नागरिक नहीं खाते जब तक की देव शयन से नहीं जाग जाते एवं उन्हें भोग नहीं लगा दिया जाता। इसलिए देवों को जगाने के साथ ही उन्हें भोग भी लगाया जाएगा।

फोटो 0711 आरएजे 04 राजगढ़। देवों के शयन से जगाने के लिए बिकने आए गन्नाा।

Posted By: Nai Dunia News Network