रतलाम। रतलाम के माणक चौक थाना क्षेत्र के हरदेव लाला पिपली चौराहा से लगे भाटो का वास क्षेत्र में सट्टे के विवाद में हुई फायरिंग कुछ घंटों बाद ही पुलिस व जिला प्रशासन गुंडे-बदमाशों, आदतन अपराधियों, जुआरियों व सटोरियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के लिए मैदान में उतर गया। पुलिस व प्रशासन के दल ने शहर के अलग-अलग हिस्सों में बदमाशों के अवैध मकानों व गुमटियों को तोड़ने की कार्रवाई शुरू कर दी। रात पौने आठ बजे से शुरू हुई कार्रवाई रातभर चली। गोली कांड के मुख्य आरोपितों अकबर हुसैन के हाट रोड गली नंबर एक स्थित मकान को तोड़ने से शुरू हुई कार्रवाई शनिवार सुबह चार बजे तक चलती रही। इस दौरान अलग-अलग क्षेत्रों में करीब एक दर्जन मकान व गुमटियों पर बुलजोडर चलाया गया। शनिवार दोपहर कुख्यात अज्जू सेरानी का निर्माणाधीन मकान तोड़ा गया।

उल्लेखनीय है कि 18 जनवरी की रात सट्टे के रुपयों को लेकर आरोपित अकबर हुसैन व नमकीन विक्रेता सोहनलाल राठौड़ के बीच विवाद हुआ था। अकबर ने सोहन की दुकान पर तोड़फोड़ की थी। सोहन की रिपोर्ट पर पुलिस ने अकबर पर प्रकरण दर्ज किया था। यह घटना क्षेत्र के लोग भूले भी नहीं थे कि 21 जनवरी की शाम करीब सवा पांच बजे अकबर अपने साथी अफसार के साथ बाइक पर पुहंचकर सोहन की दुकान पर दनादन तीन फायर कर दिए थे। हालांकि घटना में कोई हताहात नहीं हुआ, लेकिन दुकान का कांच का शोकेस टूट गया। फायरिंग की घटना से क्षेत्र में लोग आक्रोशित हो गए व सट्टा बंद करने व अपराधियों पर 24 घंटे के भीतर कार्रवाई की मांग करने लगे। कुछ समय बाद कलेक्टर कुमार पुरषोत्तम ने अपराधियों के अवैध मकानों व गुमटियों को तोड़ने के आदेश दिए।

आदेश मिलने के बाद एसपी गौरव तिवारी के नेतृत्व में पुलिस, नगर निगम, जिला प्रशासन व बिजली कंपनी का दल पहले अकबर के घर पहुंचा और उसका मकान तोड़ने की कार्रवाई शुरू की। नमकीन विक्रेता सोहनलाल भी सट्टा करता है। उसके खिलाफ भी कई प्रकरण दर्ज है। अकबर का मकान तोड़ने के बाद नमकीन विक्रेता सोहनलाल का मकान कुरैशी मंडी में एजाज कुरैशी का मकान, भाटों का वास में राकेश खन्नीवाल की दुकान व मकान, लोहार रोड पर मुकेश खन्नीवाल की दुकान व मकान, लोहार रोड पर फजल कुरैशी का मकान, सिलावटों का वास में प्रदीप सोनी का मकान, हरदेवलाल पीपली व भाटों का वासक्षेत्र में तीन अवैध गुमटियों को तोड़ दिया गया।

बिजली बंद कर की गई कार्रवाई

रात में जिन क्षेत्रों में अवैध निर्माम तोड़े गए, उन क्षेत्रों में तोड़फोड़ के दौरान करंट फैलने या अगने की कोई घटना न हो, इसके लिए बिजली सप्लाय बंद कर दी गई। इसके बाद निर्माण तोड़े गए। घंटों बिजली गुल रहने से क्षेत्रवासी रातभर परेशान रहे। लोगों का कहना था कि जिनके मकान तोड़े जा रहे है, उनकी बिजली सप्लाय बंद करना था, अन्य की क्यों की गई।

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local