रतलाम। लाकडाउन के कठिन दौर में जरूरतमंद परिवारों की लगातार सेवा कार्य के लिए समाजसेवी, जैन श्रीसंघ सज्जन मिल के सचिव और जैन सोशल ग्रुप मैत्री रतलाम के संस्थापक अमित कोठारी का सम्मान किया गया।

जैनम ग्रुप अलकापुरी व जैन श्रीसंघ सज्जन मिल क्षेत्र के प्रकाश नांदेचा, पुखराज चंडालिया ने बताया कि कोरोना काल व लाकडाउन के कठिन समय में अमित कोठारी द्वारा लगातार विभिन्ना संस्थाओं के माध्यम से निर्धन व जरूरतमंद परिवारों को लगभग 1000 राशन किट वितरण सेवा कार्य में महती भूमिका का निर्वाह किया गया। इसमें जैन श्रीसंघ सज्जन मिल, जैन सोशल ग्रुप मैत्री, नमिनाथ नवयुवक मंडल, नमिनाथ बालक मंडल आदि संस्थाओं द्वारा सहयोग प्रदान किया गया।

संदीप बोथरा का सुमंगल गार्डन सेवा कार्यों के लिए निशुल्क प्रदान करने पर सम्मान किया गया। जैन सोशल ग्रुप मैत्री द्वारा 450 किट वितरण के निमित्त मैत्री अध्यक्ष नीलेश कोठारी का भी सम्मान किया गया। अमित कोठारी ने सम्मान के लिए सभी का आभार प्रकट करते हुए भविष्य में भी सभी के सहयोग से सेवा कार्य जारी रखने का संकल्प लिया। ज्ञात हो कि पिछले लाकडाउन में भी अमित कोठारी ने सुमंगल गार्डन में जैन हेल्पलाइन की भोजनशाला का संचालन किया था। इसके लिए उन्हें कोरोना वारियर का राष्ट्रीय जैन पुरस्कार भी प्रदान किया गया था। नीलेश कोठारी, नीलेश मंडलेचा, दीपक सेलोत, विनय वोहरा, वैभव मेहता, संदीप बोथरा, प्रियेश छाजेड़, अर्पित चंडालिया, चंदन सेलोत, आयुष नवलखा, सुमंत डोसी, हेमेंद्र श्रीमाल, अनिल नवलखा, राजेश कोठारी, मेहुल कोठारी, जीतू खत्री आदि उपस्थित रहे।

1600 बच्चों ने दी आनलाइन परीक्षा

रतलाम। आचार्यश्री रामलाल जी, उपाध्याय प्रवर राजेश मुनिजी की कृपा से विराजित शासन दीपिका जय श्रीजी के मार्गदर्शन में साधुमार्गी जैन संघ रतलाम द्वारा आयोजित समता संस्कार शिविर का समापन हुआ इसमें 2400 बच्चों का आनलाइन रजिस्ट्रेशन हुआ। 1600 बच्चों ने आनलाइन परीक्षा दी। 1300 बच्चों ने प्रतिदिन क्लास अटेंड की। 1300 सामायिक नियमित हुई। इस परीक्षा में सामायिक, प्रतिक्रमण के अलावा कई धार्मिक कहानियां जम्बू स्वामी जी, शालीभद्र जी, तीर्थंकर श्री शांतिनाथ भगवान आदि के जीवन पर आधारित, रात्रि भोजन त्याग, तपस्या, नवकारसी, अनेकांतवाद ज्ञान वृद्धि व ज्ञान हानि के कारण, नौ पुण्य, धर्म के पांच बोल कालचक्र, 10 दुर्लभ बोल आदि को पूर्ण रूप से समझाया गया। जिज्ञासाओं का सरल तरीके से समाधान किया गया। संघ अध्यक्ष कपूर कोठारी, मंत्री सुमित कटारिया ने संघ की ओर से पुरस्कार की घोषणा की। महेंद्र गादिया ने बताया कि आचार्यश्री का उद्देश्य बच्चों में धार्मिक संस्कार डालना है। दिलीप मूणत, पंकज कटारिया, जूली पिरोदिया, सोनू मूणत, यतींद्र मेहता, अर्चना मेहता ने अथक प्रयास कर शिविर आयोजित किया।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags