रतलाम (नईदुनिया प्रतिनिधि)। बिजली बिल अधिक आने व आपूर्ति संबंधी अन्य समस्याओं को लेकर जिला व शहर कांग्रेस कमेटी द्वारा पांच अगस्त को दोपहर 12 बजे से बिजली कंपनी दफ्तर के सामने धरना देकर प्रदर्शन के बाद अधीक्षण यंत्री को ज्ञापन सौंपा जाएगा। प्रदर्शन में जिला कांग्रेस अध्यक्ष हर्षविजय गेहलोत, आलोट विधायक मनोज चावला, पूर्व गृहमंत्री भारतसिंह सहित कई वरिष्ठ नेता भी शामिल होंगे।

शहर कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष महेंद्र कटारिया ने बताया कि भाजपा के शासन में बिजली कंपनी आम जनता के साथ लूट करने का एक साधन बन गई है। आम उपभोक्ता को अनाप-शनाप बिल भेजे जा रहे हैं। स्मार्ट मीटर के नाम से धांधली की जा रही है। कमलनाथ सरकार ने जनता को राहत देने की योजना शुरू की थी तथा गरीब परिवारों को माह में सौ रुपये का बिल दिया जा रहा था। शिवराजसिंह चौहान सरकार द्वारा उन राहत योजनाओं को बंद कर जनता को अधिक राशि के बिल दिए जा रहे हैं। प्रदर्शन में वरिष्ठ कांग्रेसजन, पदाधिकारी, ब्लाक कांग्रेस कमेटी, सभी मोर्चा संगठन व प्रकोष्ठ के पदाधिकारी व कार्यकर्ता शामिल होंगे।

सब्सीडी खत्म की, जनता पर भार बढ़ा

जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष व सैलाना के विधायक हर्षविजय गेहलोत ने बताया कि कमलनाथ सरकार में गरीब व मध्यमवर्गीय उपभोक्ताओं को माह में केवल सौ रुपये का बिल आता था, वहीं अब 500 से 1200 रुपये तक और इससे भी अधिक का बिल दिया जा रहा है।

रतलाम में 9.83 करोड़ यूनिट बिजली वितरित

रतलाम। मप्र पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने मालवा-निमाड़ के जिलों में जुलाई माह में गत वर्ष जुलाई माह की तुलना में नौ फीसद ज्यादा बिजली वितरित की है। मप्रपक्षेविविकं इंदौर के प्रबंध निदेशक अमित तोमर ने बताया कि जुलाई में कंपनी क्षेत्र में इस वर्ष कुल 185 करोड़ यूनिट बिजली वितरित हुई। पिछले वर्ष जुलाई में 169 करोड़ यूनिट बिजली आपूर्ति थी। इस तरह लगभग नौ फीसदी बिजली अधिक वितरित हुई है। तोमर ने बताया कि इंदौर शहर में सबसे ज्यादा 28 करोड़ पांच लाख यूनिट बिजली की आपूर्ति हुई है। रतलाम जिले में जुलाई माह में 9.83 करोड़ यूनिट बिजली वितरित हुई है। इसी तरह उज्जैन जिले में 17 करोड़ 85 लाख यूनिट, देवास जिले में 15 करोड़ 47 लाख यूनिट बिजली वितरित हुई। प्रबंध निदेशक ने बताया कि आपूर्ति में सतत सुधार के साथ ही मौसमी कारणों से आए व्यवधान को भी अत्यंत कम समय में दूर किया जा रहा है। उपभोक्ता सेवाओं को लेकर मुख्य महाप्रबंधक संतोष टैगोर मैदानी अमले से सतत संपर्क में है। कंपनी की ओर से उपभोक्ता सेवाओं को लेकर अच्छा कार्य करने वाले मैदानी कर्मचारियों, अधिकारियों को आगामी समय में पुरस्कृत करने का प्रस्ताव भी है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local