रतलाम (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिला अस्पताल के ब्लड बैंक को नए भवन में शिफ्ट किया जा रहा है। जैसे ही यह भवन खाली होगा, सीटी स्कैन मशीन लग जाएगी। पिछले एक सप्ताह से शिफ्टिंग चल रही है और अभी दो-चार दिन और लग सकते हैं। इसके बाद सीटी स्कैन मशीन लगाने के लिए भवन तैयार किया जाएगा। सोमवार को भोपाल से इंजीनियर भी रतलाम आ गए और आवश्यक तैयारियों के लिए अस्पताल प्रबंधन से चर्चा की।

मालूम हो कि दो साल से जिला अस्पताल के लिए सीटी स्कैन मशीन की स्वीकृति मिल चुकी है, लेकिन ठेकेदार की लेटलतीफी से अभी तक काम नहीं हो पाया। कोरोना के दौरान शासन स्तर से मशीन लगाने के कड़े निर्देश के बाद संबंधित एजेंसी एक्टिव हुई है। उम्मीद है कि इस महीने मशीन चालू हो जाएगी। आरएमओ एवं ब्लड बैंक प्रभारी योगेश नीखरा ने बताया कि ब्लड बैंक शिफ्ट हो रहा है। मशीन लगाने के लिए संबंधित इंजीनियर आगे की प्रक्रिया करेंगे।

आयुष्मान कार्ड से पांच अस्पतालों में मिलेगा उपचार

रतलाम। शहर के पांच निजी अस्पतालों को आयुष्मान भारत अंतर्गत कोरोना मरीजों का उपचार करने के लिए मान्यता दी गई है। सीएमएचओ डा. प्रभाकर ननावरे ने बताया कि इन अस्पतालों में जिले के आयुष्मान कार्ड धारी व्यक्ति कोरोना का निशुल्क इलाज करवा सकेंगे। निजी अस्पतालों में गीतादेवी अस्पताल 80 फीट रोड 9111333122, श्रद्धा अस्पताल काटजू नगर 8209077376, रतलाम अस्पताल शास्त्री नगर 9425103957, शाह अस्पताल काटजू नगर 9624295864, आरोग्यम अस्पताल कालेज रोड 8989191919 शामिल है।

कोविड से मौत पर रेलकर्मियों को भी मिले दुर्घटना की राशि

रतलाम। कोरोना महामारी में दवाईयां, आक्सीजन, किराना, सब्जियां आदि वस्तुओं पहुंचाने के लिए संक्रमण के खतरे में भी ट्रेनों का परिचालन किया जा रहा है। बड़ी संख्या में रेलकर्मी डयूटी करते हुए संक्रमित होने के चलते अपनी जान गवां चुके हैं।

यह बात कहते हुए वेस्टर्न रेलवे मजदूर संघ के जोनल अध्यक्ष शरीफ खान पठान और मंडल मंत्री बीके गर्ग ने बताया कि नेशनल फेडरेशन आफ इंडियन रेलवे मेन के महांमत्री डा. राघवैया ने रेल मंत्री पीयूष गोयल से मिलकर अवगत कराया कि कर्मचारी की आन डयूटी मौत होने पर नियमानुसार उसके परिवार हो 25 लाख रुपये दिए जाते हैं। कोराना काल में भी कर्मचारी डयूटी पर संक्रमित हो रहे हैं जिसके कारण कई कर्मचारी की मौते हो चुकी है। कोविड से मृत कर्मचारियों के परिवार को उक्त राशि देकर उनके स्वजनों को शीघ्र ही अनुकंपा नियुक्ति प्रदान की जाना चाहिए। रेल मंत्री ने डॉ राघवैयया को शीघ्र ही निर्णय करने का आश्वासन दिया। जानकारी वेस्टर्न रेलवे मजदूर संघ के मंडल प्रवक्ता गौरव दुबे ने दी।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags