रतलाम। स्वतंत्रता के अमृत महोत्सव पर हिंदी पखवाड़े के अंतर्गत शासकीय कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय रतलाम में स्वामी विवेकानंद करियर मार्गदर्शन प्रकोष्ठ हिंदी विभाग व साहित्यिक समिति के तत्वावधान में आत्मनिर्भर मप्र में हिंदी की भूमिका विषय पर निबंध प्रतियोगिता आयोजित की गई।

इस दौरान महाविद्यालय के प्राचार्य डा. आरके कटारे ने कहा कि मप्र हिंदर भाषी प्रदेश है, यद्यपि यहां अलग-अलग बोलियां बोली जाती हैं, जो हिंदी भाषा से ही निकली हैं। डा. आनंद सिंदल ने राष्ट्रभाषा व राज्य भाषा में अंतर स्पष्ट करते हुए हिंदी की स्थिति पर विचार व्यक्त किए।

प्रतियोगिता में बड़ी संख्या में छात्राओं ने भाग लिया। इसमें नीता राठौर एमए हिंदी ने प्रथम, आचल नागल बीएससी तृतीय वर्ष ने द्वितीय तथा खुशबू गोठवाल बीकाम सीए तृतीय वर्ष ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। ये छात्राएं जिला स्तर पर शासकीय कला एवं विज्ञान महाविद्यालय में शासकीय कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय का नेतृत्व करेंगी। इस दौरान वरिष्ठ प्राध्यापक डा. सुरेश कटारिया, प्रो. सुषमा कटारे, डा. अनिल जैन, डा. सुरेश चौहान, डा. बी. वर्षा, डा. मीना सिसौदिया, डा. मधु गुप्ता, डा. संध्या सक्सेना, डा. सरोज खरे, डा. आनंद सिंदल, डा. स्नेहा पंडित, डा. स्वर्णलता ठन्नाा, प्रो. देवेंद्र हारोड़, उमेश सिंह, शिवप्रकाश पुरोहित ने उपस्थित थे। संचालन डा. माणिक डांगे ने किया। आभार डा. सुनीता श्रीमाल ने माना।

ऋण बाकी होने पर भी जारी कर दी एनओसी

रतलाम। दी जेक्शन को-आपरेटिव क्रेडिट सोसायटी आप द एंप्लाइज आफ द वेस्टर्न रेलवे लिमिटेड शाखा रतलाम पर अनियमितताओं के आरोप लगाए गए हैं। अंबेडकर नगर स्थित सीटीसीसी कार्यालय में असिस्टेंट लोको पायलट के अंतर रेलवे (खंडवा) स्थानांतरण को लेकर शाखा प्रबंधक द्वारा ऋण की बिना अदायगी किए वरिष्ठ मंडल कार्मिक अधिकारी को नो आब्जेक्शन सर्टिफिकेट (एनओसी) जारी कर दिया। अंबेडकर नगर स्टेशन पर ही कार्यरत लोको पायलट नितिन कुमार परदेसी ने जेसी बैंक में जब अपने सेटलमेंट के लिए आवेदन दिया तो उसे जानकारी दी गई कि आपके द्वारा कर्मचारी मुकेश यादव को दिए गए ऋण की बकाया(जमानत) बकाया है या तो आप उसे जमा करा दें। मालूम हो कि जेसी बैंक और रेलवे प्रशासन के बीच एमओएम के माध्यम से यह तय हुआ है कि अंतर रेलवे स्थानांतरण पर एनओसी जैसी बैंक से प्राप्त कर संबंधित कर्मचारी को रेल प्रशासन रिलीव अथवा कार्यमुक्त करेगा। वेस्टर्न रेलवे एंप्लाइज यूनियन के प्रवक्ता अशोक तिवारी ने जयपुर में 27 सितंबर को होने वाली जेसी बैंक के एजीएम में इस मामले को उठाने की बात कही है। तिवारी ने जेसी बैंक के अध्यक्ष एवं वित्त सलाहकार मुख्य लेखा अधिकारी निर्माण से भी जांच की मांग की है। वेरेएयू के मंडल मंत्री मनोहर सिंह बारठ ने कहा कि मामला गंभीर है जांच आवश्यक है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local