MP Assembly by elections भोपाल (नईदुनिया स्टेट ब्यूरो)। पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ ने महिला एवं बाल विकास मंत्री और डबरा विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी इमरती देवी का नाम लिए बिना संकेतों में उनके खिलाफ असम्मानजनक शब्दों के उपयोग पर चुनाव आयोग को जवाब भेज दिया है। उन्होंने कहा है कि मैंने कभी किसी महिला का अपमान नहीं किया है और न ही असम्मानजनक शब्दों का उपयोग किया है। संसदीय व्यवस्था में जिस शब्द का उपयोग किया जाता है, वो इस्तेमाल किया था। अब चुनाव आयोग जवाब का परीक्षण करने के बाद अपना फैसला सुनाएगा।

गौरतलब है कि रविवार को डबरा की सभा में कमल नाथ ने आपत्तिजनक शब्द इस्तेमाल किए थे। चुनाव आयोग ने भाजपा की शिकायत पर पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ को नोटिस जारी करके 48 घंटे में जवाब मांगा था। यह अवधि शुक्रवार को समाप्त होनी थी। शाम होने से पहले ही उन्होंने चुनाव आयोग को जवाब भेज दिया।

उनके मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि निर्धारित समय सीमा के भीतर जवाब भेज दिया है। सूत्रों का कहना है कि वकीलों के माध्यम से तकनीकी पहलुओं को मद्देनजर रखते हुए जवाब तैयार कराया गया है। इसमें बताया गया कि उनकी मंशा किसी का अपमान करने की कभी नहीं रही है।

उधर, भाजपा के प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने कहा कि कमल नाथ का जवाब निर्वाचन आयोग में जमा हो गया है। अब आयोग को तय करना होगा कि वो महिलाओं की भागीदारी लोकतंत्र में किसी प्रकार सुनिश्चित करते हैं क्योंकि उन्होंने (कमल नाथ) न तो खेद प्रकट किया और न ही क्षमायाचना की। इस प्रकार के शब्द आम प्रचलन में आए तो निर्वाचन में चाहे वो (महिला) बतौर प्रत्याशी हो या मतदाता, हतोत्साहित होंगी। इस प्रकार की अभद्र व असम्मानजनक भाषा का इस्तेमाल हुआ तो महिलाओं को प्रोत्साहन देने का जो काम हो रहा है उसे धक्का लगेगा। इस मामले में ऐसी कार्रवाई होने चाहिए जो नजीर बने और कोई भी महिला का इस तरह अपमान न कर सके।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस