रतलाम (नईदुनिया प्रतिनिधि)। औद्योगिक थाना क्षेत्र के लक्ष्‌मणपुरा में महिला के घर में घुसकर करीब नौ लाख रुपये के जेवर व 1.60 लाख रुपये नकद चुराने के मामले में तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है।वा

एसपी गौरव तिवारी ने पत्रकारवार्ता में बताया कि 6 व 7 अक्टूबर की दरमियानी रात 59 वर्षीय अनिता जेन फ्रांसिस पत्नी एडी फ्रांसिस निवासी लक्ष्‌मणपुरा घर में अकेली थी। तब अज्ञात नकाबपोश बदमाश दरवाजे की जाली काटकर अंदर घुसे थे। चाकू व हाशिया दिखाकर महिला को धमकाकर रुपये व जेवर लेकर भाग गए थे। एएसपी (ग्रामीण) सुनील पाटीदार व सीएसपी हेमंत चौहान के मार्गदर्शन में टीआइ ओपीसिंह के नेतृत्व में टीम ने जांच शुरू की। करीब दो दर्जन संदिग्धों से पूछताछ कर सीसीटीवी कैमरे चेक किए। जांच में पता चला कि वारदात आरोपित 23 वर्षीय युवराज उर्फ भोला पुत्र मोहनलाल सिरला निवासी लक्ष्‌मणपुरा, 19 वर्षीय अभिषेक उर्फ कुणाल पुत्र मदनलाल परमार निवासी रेलवे कालोनी व 21 वर्षीय हेमंत उर्फ टीमू पुत्र शंकरलाल परमार निवासी राजस्व कालोनी महू रोड ने की है। युवराज व अभिषेक जयपुर भाग गए थे। हेमंत उनके पास जाने की तैयारी कर रहा था, तभी उसे पकड़ लिया गया। इसके बाद युवराज व अभिषेक को जयपुर से गिरफ्तार किया गया।

पड़ोसी होने के नाते अभिषेक घर आता-जाता था

पहले हेमंत को गिरफ्तार कर पूछताछ की तो उसने बताया कि युवराज ने उसे व अभिषेक को लक्ष्‌मणपुरा के सामने रेलवे पटरी किनारे बुलाकर बताया था कि उसके घर के पास में एक बड़ा मकान है। वहां महिला अकेली रहती है। पड़ोसी होने से वह उनके घर आता-जाता है। महिला बुजुर्ग है व उनके घर पर जेवर व रुपये हैं। देररात वे हसिया, चाकू, पेचकस, प्लायर लेकर अनिता के घर पहुंचे। दरवाजे की जाली काटकर वह व अभिषेक घर में घुसे। युवराज घर के बाहर निगरानी करता रहा। अंदर जाकर बैग में रखे 1.60 लाख रुपये व अलमारी से जेवर निकाले। अनिता जाग गई तो हथियार दिखाकर डराया, फिर जेवर व रुपये लेकर भाग गए।

कुणाल के घर किया बंटवारा

पुलिस के अनुसार वारदात कर आरोपित कुणाल के घर पहुंचे, उसके घर कोई नहीं था। वहां रुपयों का बंटवारा किया। जेवर बाद में बेचने के उद्देश्य से पन्नाी में भरे व कपड़े से बांधकर के अंदर ही छिपा दिए थे। युवरात ने 25 हजार रुपये में पुरानी बाइक व भोला ने 15 हजार रुपये में वाशिंग मशीन खरीदी थी। आरोपितों के पास से वाशिंग मशीन, 60 हजार रुपये, सोने की दो चेन, चार चूड़ियां, चार जोड़ टाप्स, एक अंगूठी, तीन पेंडल आदि जेवर भी जब्त किए गए हैं।

नशा करने के लिए करते हैं चोरियां

एसपी तिवारी ने बताया कि तीनों आरोपित नशे के आदी हैं। उनके खिलाफ जीआरपी थाने में चोरी के मामले दर्ज हैं। आरोपितों को पकड़ने व जेवर, रुपये जब्त करने वाली टीम में थाना प्रभारी ओपीसिंह, एसआइ जितेंद्र कनेश, एएसआइ रायसिंह रावत, प्रधान आरक्षक दिनेश जाट, आरक्षक लोकेंद्रसिंह सोनी, दीपकसिंह, शोभाराम शर्मा, सूर्यप्रसाद, लखनसिंह, पंकज बारिया, राकेश निनामा, हेमराज, संजय चौहान, हरिओम, वीरेंद्र बारोड़, संदीप शर्मा, दिनेश धनगर, मानसिंह चौहान, सोनू राठौर, जाय बारिया, राजेंद्र, साइबर सेल की भूमिका रही। टीम को दस हजार रुपये का इनाम दिया जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local