Rain in Ratlam: रतलाम। रतलाम जिले में शनिवार से शुरू हुआ तेज बारिश का दौर रविवार को भी जारी है। सुबह हुई तेज बारिश के कारण जिलेभर में नदी-नाले उफान पर आ गए और ग्रामीण इलाकों में संपर्क टूट गया। रतलाम शहर में डाट की पुल, पीएनटी कॉलोनी, शास्त्री नगर, चौमुखीपुल, हिम्मतनगर सहित कई इलाकों में घरों में पानी घुस गया और सड़कें भी जलमग्न हो गईं। दो बत्ती स्थित डीआरएम कार्यालय में भी पानी भरा गया। यहां सड़क का एक हिस्सा बनने के बाद अब जलभराव की नई समस्या होने लगी है। शिवपुर में पुलिया पर पानी होने के बाद भी कार निकालने के फेर में कार बह गई। रतलाम महू रोड स्थित बस स्टैंड पर भी दुकानों में पानी घुस गया और घुटने-घुटने पानी भरा गया। रेलवे स्टेशन पर प्लेटफार्म पर 4 फीट पानी भरा, ट्रेनों का आवागमन बंद हो गया।

24 घंटे में 3 इंच बारिश

रविवार सुबह 8 बजे समाप्त हुए चौबीस घंटे में रतलाम शहर में तीन इंच बारिश दर्ज की गई है। जोरदार बारिश से जिले में नदी नाले और पुलिया पुर पर आ गए हैं। भू-अभिलेख विभाग से मिले आंकडों के मुताबिक आज सुबह 8 बजे तक जिले में औसतन डेढ़ इंच बारिश हो चुकी है। जबकि रतलाम शहर में अब तक कुल साढे 36 इंच बारिश दर्ज की गई है। जावरा में अब तक 44 इंच के लगभग बारिश हो चुकी है। इसके विपरित जिले में सबसे कम बारिश बाजना में दर्ज की गई है। बाजना में 28 इंच बारिश हुई है।

जिले में बारिश

शनिवार सुबह 8:00 बजे से रविवार सुबह 8:00 बजे तक के 24 घंटे में हुई बारिश की बात करें तो रतलाम में तीन इंच बारिश दर्ज की गई है।वहीं जिले के आलोट में 2 इंच , ताल में ढाई इंच , जावरा में 10 मि. नी. , पिपलोदा में पौने 2 इंच, बाजना में आधा इंच से अधिक, रावटी में आधा इंच और जिले के सैलाना में सवा इंच बारिश दर्ज की गई है। जिले में 24 घंटे के अंदर औसत रूप से 38.5 मि.मी. बारिश दर्ज की गई है।

अभी तक हुई कुल बारिश के आंकड़े

जिले में इस वर्ष 1 जून से लेकर अभी तक हुई बारिश के आंकड़ों को देखा जाए तो औसत रूप से 36 इंच के लगभग बारिश दर्ज की गई है। रतलाम में अभी तक 36.5 इंच ,आलोट में 33 इंच से अधिक, जावरा में करीब 44 इंच से अधिक, पिपलोदा में 30 इंच से अधिक, बाजना में 28 इंच से अधिक, रावटी में 36 इंच के लगभग और जिले के सैलाना में अभी तक कुल 38 इंच बारिश दर्ज की जा चुकी है।

धोलावाड़ डेम के दो और गेट खोले

भारी बारिश से जिले में धोलावाड़ डेम लबालब हो गया है। कल दोपहर में डैम का एक गेट खोला गया था, रविवार सुबह दो और गेट खोले गए डैम में पानी की तेज आवक के चलते शेष बचे दो गेट भी शाम तक खोले जाने की संभावना है। हनुमान ताल और बांगरोद का तालाब भी लबालब होकर छलकने लगा है। लोग यहां नजारा देखने पहुंचने लगे हैं।

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local