रतलाम। बिलपांक पुलिस ने लूट के मामले में करीब चार वर्ष से फरार चल रहे वारंटी राजू उर्फ राधेश्याम पिता धन्नाालाल मुुनिया (35) निवासी ग्राम धराड़ को गिरफ्तार किया है। उसे रविवार को न्यायालय में पेश किया गया। न्यायालय ने उसे 26 अगस्त तक पुलिस रिमांड पर रखने के आदेश दिए हैं। राजू की गिरफ्तार पर तीन हजार रुपए का इनाम घोषित था। उससे अन्य वारदातों के बारे में भी पूछताछ की जा रही है। पुलिस के अनुसार वर्ष 2015 तीन आरोपितों ने गोवर्धनसिंह व सोहनसिंह निवासी ग्राम धराड़ से 45 हजार रुपए व मोबाइल फोन लूट लिया था। मामले में आरोपित नागेश्वर व भेरू को गिरफ्तार कर लिया गया था। राजू फरार चल रहा था। न्यायालय ने उसकी गिरफ्तारी के लिए वारंट जारी किया था। मुखबिर से सूचना मिली थी कि राजू ग्राम धराड़ में आया हुआ। सूचना पर रविवार रात प्रधान आरक्षक सुनील सहगल, आरक्षक नीरज त्यागी व संजीव शर्मा ने घेराबंदी कर उसे गिरफ्तार कर लिया। मामले की जांच कर रहे एसआई लक्ष्मीनारायण गिरी ने बताया कि पूछताछ में आरोपित ने बताया कि उसे हिस्से में दस हजार रुपए मिले थे, जो खर्च हो गए।

पिता-पुत्र गिरफ्तार, जेल भेजा

रतलाम। औद्योगिक क्षेत्र पुलिस ने आपसी विवाद में पड़ोसियों के साथ मारपीट कर हमला करने के मामले में आरोपित धन्नाालाल पिता भेरूजी मालवीय (62) निवासी ग्राम घटला व उसके पुत्र परमानंद (32) को गिरफ्तार कर लिया। दोनों को रविवार को न्यायालय में पेश किया गया, जहां से दोनों को 31 अगस्त तक के लिए जेल भेज दिया गया। उल्लेखनीय है कि आपसी विवाद में आरोपितों ने 29 जुलाई 2019 को पड़ोसी नरसिंह, उनकी पोती सपना व पोते अभिषेक के साथ मारपीट कर उन पर हमला किया था। सपना को गंभीर चोट आने पर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था।