रतलाम (नईदुनिया प्रतिनिधि)। दीनदयाल नगर पुलिस ने ग्राम सांवलिया रूंडी में पैराडाइज वैली क्षेत्र में घूमने गए दो भाइयों को लूटने के मामले का राजफास कर दिया है। पुलिस ने चारों आरोपितों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से लूटा गया मोबाइल फोन, पर्स, दस्तावेज व दो हजार रुपये बरामद किए हैं। आरोपितों को शुक्रवार को न्यायालय में पेश किया गया। न्यायालय ने चारों को 30 जनवरी तक पुलिस रिमांड पर रखने के आदेश दिए हैं। उनसे अन्य वारदातों के बारे में पूछताछ की जा रही है।

पुलिस के अनुसार 23 जनवरी की शाम पांच बजे मुंबई नाहरपुरा निवासी 21 वर्षीय सिद्धार्थ ओझा पुत्र असीम ओझा अपने भाई अथर्व ओझा के साथ स्कूटी से घूमने के लिए सांवलिया रुंडी में पेराडाइज वैली गए थे। एक स्थान पर स्कूटी खड़ी कर वे खाई की तरफ गए थे, तभी चार अज्ञात आरोपितों ने उन्हें घेर लिया था व डराकर सिद्धार्थ का मोबाइल फोन, पर्स व अर्थव से पांच सौ रुपये लूट लिए थे। पर्स में करीब दो हजार रुपये, आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस था। एसपी गौरव तिवारी के निर्देशन व थानी प्रभारी शिवमंगलसिंह के नेतृत्व में लुटेरों का धरपकड़ के लिए टीम गठित की गई थी। टीम ने जांच की तो पता चला कि वारदात आरोपित 27 वर्षीय द्वारका भाभर पुत्र लक्ष्‌मण भाभर व उसके साथियों ने की है। द्वारका को गुरुवार शाम त्रिपोलिया गेट क्षेत्र से घेराबंदी कर गिरफ्तार किया गया। उसने वारदात साथी 23 वर्षीय विक्रम भाभर पुत्र जीवाजी भाभर, 19 वर्षीय अर्जुन भाभर पुत्र ईश्वर भाभर व 21 वर्षीय रोशन पारगी पुत्र वारजी पारगी तीनों निवासी ग्राम सांवलिय रुंडी के साथ मिलकर करना बताया। इसके बाद विक्रम, अर्जन व रोशन को भी गिरफ्तार किया गया। आरोपितों को पकड़ने गए दल में एसआइ अनुराग यादव, एएसआइ विनोद कटारा, प्रधान आरक्षक मनोज पांडेय, जितेंद्रसिंह गौड़, हिंमाशु यादव, शैलेंद्रसिंह, आरक्षक अवधेश परमार, रोशन, संजय सोनावा, महेश ठाकरे, नंदकिशोर व सैनिक दिनेश डोडियार की शामिल थे।

महिला के गले से चेन झपटने के प्रयास में भी शामिल

पुलिस ने बताया कि आरोपितों ने दो माह पहले अलकापुरी क्षेत्र में एक महिला के गले से चेन झपटने का प्रयास करने की जानकारी दी है। इस मामले की तस्दीक की जा रही है। उनका आपराधिक रिकार्ड भी चेक किया जा रहा है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local