रतलाम। दूधिया रोशनी से जगमग जैन प्रीमियर लीग रात्रिकालीन क्रिकेट टूर्नामेंट के पांचवें दिन दो सेमीफाइनल मुकाबले खेले गए। टूर्नामेंट के अंतिम दिन मैत्री सुपर स्टार व रायल 11 के बीच फाइनल मुकाबला खेला जाएगा।

आयोजक अमित कोठारी व अक्षय संघवी ने बताया कि भाजपा खेल प्रकोष्ठ प्रदेश के सहसंयोजक यतेंद्र भारद्वाज, युवा नेता जुबीन जैन, डा. अंतिमा जैन, डा. नेहा सराफ, डा. दर्शना जैन, डा. गोपाल यादव व डा. गौरव यादव अतिथि रहे। सेमीफाइनल का पहला मुकाबला मैत्री सुपर स्टार और काटेज इलेवन के बीच हुआ। पहले बल्लेबाजी करते हुए काटेज 11 ने 71 रनों का लक्ष्‌य मैत्री सुपरस्टार को दिया, जिसे मैत्री ने आसानी ने बना कर फाइनल में प्रवेश किया। सेमीफाइनल का दूसरा मुकाबला रतलाम सुपर किंग्स व रायल इलेवन के बीच हुआ। रायल 11 ने पहले गेंदबाजी की और रतलाम सुपर किंग्स ने 10 ओवर में 79 रनों का लक्ष्‌य रखा। रायल 11 ने इन रनों का हासिल कर फाइनल की दूसरी टीम के रूप में अपना स्थान पक्का किया।

जैन प्रीमियर लीग की आयोजन कमेटी के वैभव मेहता, नमन नवलखा, राहुल रांका, रवि सोनी, संदीप बोथरा, मयंक कोठारी, मनोज अग्रवाल, नीलेश कोठारी, शुभम मूणत, राहुल सकलेचा, दीपक सेलोत, गौरव कास्टिया, राहुल नवलखा, अर्पित चंडालिया, ऋषभ मूणत, प्रयास नागौरी, हितेश बरमेचा, शिवम मूणत व हेमेंद्र श्रीमाल आदि उपस्थित रहे।

31.63 लाख उपभोक्ताओं को दी एक रुपये यूनिट बिजली

- अप्रैल माह के बिजली बिलों में 134.35 करोड़ की मदद

- तीस दिनों में 150 यूनिट तक खपत वाले उपभोक्ता पात्र

रतलाम। मध्यप्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी गृह ज्योति योजना का प्रभावी क्रियान्वयन कर हर माह लाखों पात्र उपभोक्ताओं को बिल में राहत प्रदान कर रही हैं। मालवा और निमाड़ के सभी 15 जिलों में पिछले माह अप्रैल के जारी बिलों में 31.63 लाख उपभोक्ताओं को एक रुपये यूनिट की दर से बिजली उपलब्ध कराई गई। इन पात्र उपभोक्ताओं को प्रथम 100 यूनिट तक बिजली एक रुपये यूनिट की दर से प्रदान की गई है। इससे शासन की ओर से उपभोक्ताओं को लगभग 134.35 करोड़ की सब्सिडी प्रदान की गई।

मप्रपक्षेविविकं प्रबंध निदेशक अमित तोमर ने बताया कि बीते एक माह के दौरान इस योजना से 31.63 लाख उपभोक्ता लाभान्वित हुए हैं। प्रत्येक पात्र उपभोक्ता को 300 से 537 रुपये की सब्सिडी दी गई है। कंपनी क्षेत्र के सभी उपभोक्ताओं को 134.35 करोड़ की राहत दी गई है। इन 31.63 लाख उपभोक्ताओं के एक माह की खपत बिल 100 से 450 रुपये तक प्रदान किए गए। तोमर ने बताया कि 15 जिलों में सबसे ज्यादा इंदौर जिले में लगभग चार लाख उपभोक्ताओं को लाभ दिया गया है। इंदौर जिले में कंपनी के ही धार, देवास, बड़वानी, खरगोन, मंदसौर, रतलाम, उज्जैन आदि जिलों में भी सवा दो लाख से ढाई लाख उपभोक्ता लाभान्वित हुए हैं। अन्य जिलों में भी एक लाख से पौने दो लाख उपभोक्ताओं को पात्रतानुसार एक रुपये यूनिट की दर से प्रथम 100 यूनिट तक बिजली प्रदान की गई है। प्रबंध निदेशक तोमर ने बताया कि योजना के क्रियान्वयन में दैनिक पांच यूनिट खपत की पात्रता आती है। तीस दिन में 150 यूनिट से ज्यादा खपत आने पर माह विशेष के लिए पात्रता समाप्त हो जाती है। प्रबंध निदेशक ने बताया कि ऊर्जामंत्री प्रद्युम्नसिंह तोमर के निर्देशानुसार कंपनी के कर्मचारी, अधिकारियों द्वारा उपभोक्ताओं से योजना लाभ के संबंध में फीडबैक भी लिया जा रहा है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close