भारत के दिल मध्यप्रदेश का एक खूबसूरत जिला रतलाम है, जो चारों ओर से खूबसूरत स्थलों से घिरा हुआ है। यह मालवा का एक महत्वपूर्ण शहर है।रतलाम जिला एक अदभुत पर्यटन स्थल है। यहां प्राचीन स्मारक से लेकर धार्मिक, दर्शनीय स्थल है। शहर के केंद्र में कालिका माता मंदिर है, जो श्रद्धा के साथ प्राचीन वास्तुकला का नमूना है। इसी के पास गुलाब चक्कर है, जो अपने नाम को सार्थक करता है। यहां विभिन्ना रंग व प्रजाति के गुलाब के साथ ही फव्वारें सभी को आकर्षित करते हैं। यहां पुरातत्व संग्रहालय भी है।

मेरे रतलाम जिले में सैलाना तो प्रकृति प्रेमियों के लिए स्वर्ग है। खरमौर पक्षी व झरने सभी को आकर्षित करते हैं। सैलाना का कैक्टस गार्डन एशिया में प्रमुख स्थान रखता है। यहां 1200 से अधिक कैक्टस की प्रजातियां हैं, जिसमें कई विभिन्ना विदेशी प्रजाति के हैं। रतलाम में ही धोलावड़ का एक प्रमुख पिकनिक स्पाट है। यहां जल क्रीड़ा व साहसिक खेल भी होते हैं। धोलावड़ बांध के पास टेंट में रात में रुककर चांद को निहारने का भी अपना आनंद है। रतलाम पर्यटन से भी अधिक भोजन व बाजार के लिए भी प्रसिद्ध है। रतलाम का सोना अपनी गुणवत्ता के लिए और सेंव अपने स्वाद के लिए देशभर में प्रसिद्ध है। एक आश्चर्य की बात यह भी है कि यहां कपड़े की कोई मिल नहीं होने के बावजूद साड़ी के लिए भी प्रसिद्ध है। इसका कारण यह है कि यहां साड़ियां बहुत सस्ती मिलती हैं।

मेरे मन की याद गली

रतलाम के लोग बड़े प्रेमी स्वभाव के होते हैं। सभी त्योहार खूब उल्लास से मनाए जाते हैं। हमारे रतलाम में कोई हवाई अड्डा नहीं है। इसके शुरू होते ही रतलाम में देश-विदेश के पर्यटक आने शुरू हो जाएंगे। मप्र जन अभियान व विभिन्ना सामाजिक संस्थाओं के माध्यम से सीड बाल जगह-जगह रोपी गई। कुछ समय बाद रतलाम की भूमि पूर्णतया हरे वृक्षों से भरी हुई होगी। रतलाम की बोली में बड़ी मिठास है। एक पर्यावरण प्रेमी होने से मेरे दिल से बस यही आवाज आती है कि एक दिन पूरे देश विदेश में रतलाम अपनी प्राकृतिक सुंदरता स्वच्छता के लिए भी जाना जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close