रतलाम (नईदुनिया प्रतिनिधि)। चौमुखीपुल से नौलाईपुरा तक निर्माणाधीन सड़क में गुणवत्ताविहीन सामग्री का उपयोग किया जा रहा है। मंगलवार को यहां पुराने नाले को ढंकने के लिए लगाई गई फर्शियों की मोटाई कम होने की शिकायत क्षेत्रीय रहवासियों, व्यापारियों ने की। ठेकेदार ने इसे पर्याप्त बताते हुए पूरा वजन झेलने की बात कही। इस पर व्यापारी वीरेंद्र गांधी क्षमता मापने के लिए जैसे ही फर्शी पर खड़े हुए तो फर्शी टूट गई और जैन नाले में जा गिरे। इससे उन्हें चोट आई।

इस घटना से नाराज व्यापारी मौके से सीधे जनसुनवाई में पहुंचे और कलेक्टर नरेंद्र सूर्यवंशी को शिकायत की। शिकायत में बताया गया कि नौलाईपुरा में सीसी रोड निर्माण कार्य चल रहा है। यहां वर्षों पुराना भूमिगत नाला होने से बारिश में जलभराव की समस्या भी होती है। नाले का नवनिर्माण होना चाहिए। 17 अप्रैल को नाले पर लगी फर्शियां निगम अमले ने हटा दी थी, तब से नाला खुला ही पड़ा है। अभी जो फर्शियां लगाई गई हैं, वे बेहद कमजोर हैं। इससे हादसे की आशंका बनी रहेगी। कलेक्टर ने निगमायुक्त सोमनाथ झारिया को ठेकेदार पर कार्रवाई के आदेश दिए। निगमायुक्त ने बताया कि नए सिरे से निर्माण कर नाला ढंकने के बाद पैवर ब्लाक लगाए जाना है। मंगलवार को कुल 107 आवेदनों पर सुुनवाई कर संबंधित विभागों को निराकरण के निर्देश कलेक्टर ने दिए।

आरडीए की आय बढ़ाएं, कार्यालय में सफाई रखें

- कलेक्टर ने विकास प्राधिकरण पहुंचकर ली जानकारी

रतलाम। कलेक्टर नरेंद्र सूर्यवंशी ने मंगलवार को रतलाम विकास प्राधिकरण कार्यालय पहुंचकर कार्य गतिविधियों की जानकारी ली। इस दौरान आयोजित प्राधिकरण की सीईओ जमुना भिड़े, इंजीनियर पाटिल, कर्मचारी राजेश उपाध्याय आदि उपस्थित थे। कलेक्टर ने प्राधिकरण में सफाई व्यवस्था पर असंतोष व्यक्त किया, वातावरण स्वच्छ रखने के निर्देश दिए। प्राधिकरण की जानकारी प्राप्त करते हुए निर्देशित किया कि आय बढ़ाई जाए। नई कालोनियों का विकास करने एवं अन्य महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट तैयार की जाए। ट्रांसपोर्ट नगर व आइएसबीटी निर्माण पर चर्चा की। इंजीनियर को गुणवत्ता के साथ समय सीमा में कार्य करने के निर्देश दिए।

0000

एडवांस में पेड की र्गइ ड्यूटी रिफंड की जाए, आज दो घंटे बंद रखेंगे पेट्रोल पंप

रतलाम। पेट्रोलियन डीलर्स एसोसिएशन ने इंडियन आइल कार्पोरेशन लिमिटेड के कार्यकारी निदेशक/राज्य स्तरीय समन्वयक को पत्र लिखा है। इसमें एडवांस में पेड की र्गइ एक्साइज ड्यूटी रिफंड करने की मांग की र्गइ है। पत्र में बताया गया कि 04 नवंबर 2021 व 05 नवंबर 2021 दीपावली के अवसर पर केंद्र सरकार ने डीजल पर 15 रुपये लीटर व पेट्रोल पर 10 रुपये लीटर एक्साइज ड्यूटी की कटौती की र्गइ थी। 22 र्मइ को डीजल पर सात रुपये और पेट्रोल पर साढ़े नौ रुपये की कटौती की र्गइ है। सरकार के इस कदम के एसोसिएशन ने स्वागत किया है, लेकिन इस तरह से की र्गइ कटौती से मप्र के प्रत्येक डीलर को एक्साइज ड्यूटी कटौती से 12 से 15 लाख रुपये का नुकसान उठाना पड़ा है। जबकि डीलर द्वारा डीजल-पेट्रोल की खरीद पर एडवांस/पूर्व में एक्साइज ड्यूटी पेड की जाती है। इस स्थिति में एक्साइज ड्यूटी घटने पर एडवांस में पेड की र्गइ ड्यूटी रिफंड की जाना चाहिए। मांगों को लेकर डीलर्स द्वारा 25 र्मइ को शाम सात से रात नौ बजे तक संपूर्ण मप्र में पेट्रोल पंप बंद रखकर हड़ताल की जाएगी। इसके बाद भी मांगें नहीं माने जाने पर अनिश्चितकाल के लिए पेट्रोल पंप बंद किए जाएंगे।

00000

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close