रतलाम (नईदुनिया प्रतिनिधि)। सड़क किनारे सब्जी व फल विक्रय पर प्रतिबंध लगाने के बाद अब नगर निगम ने सख्ती शुरू कर दी है। पांच मई से लागू नई व्यवस्था में क्षेत्रवार स्थान तय किए गए हैं। इसमें राम मंदिर व जवाहर नगर के समीप के फल-सब्जी विक्रेताओं को विनोबा नगर बिजली ग्रिड के पास जगह दी गई है। शनिवार सुबह निगम अमला राम मंदिर क्षेत्र में व्यापार करने वाले सब्जी विक्रेताओं को हटाने लगा तो विरोध शुरू हो गया। विक्रेताओं ने चार बत्ती चौराहे पर चक्काजाम कर दिया। बाद में उपायुक्त विकाससिंह सोलंकी के आने पर एक दिन का समय दिया गया।

मालूम हो कि घास बाजार, त्रिपोलिया गेट व आसपास के क्षेत्र के विक्रेताओं को त्रिवेणी के समीप कल्याण नगर में टीआइटी रोड, पैलेस रोड क्षेत्र के विक्रेताओं को छत्रीपुल, अलकापुरी व सनसिटी आदि के विक्रेताओं को साक्षी पेट्रोल पंप के सामने, राममंदिर व आसपास के विक्रेताओं को विनोबा नगर ग्रिड के पास स्थान देना तय किया गया है। इस निर्णय के बाद दो सप्ताह तक बाजार बैठक वसूली नहीं करने व समझाइश देने के निर्देश कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने दिए थे। अब सख्ती से पालन कराया जा रहा है। राममंदिर क्षेत्र के सब्जी विक्रेताओं ने शनिवार को धरने के दौरान कहा कि नए स्थान पर जाने से व्यापार प्रभावित होगा। धरना देकर सभी ने चार बत्ती चौराहे के अंदर होने से यातायात बाधित नहीं होने का हवाला दिया। बाद में निगम अमले ने सख्ती की तो सब्जी अधिक मात्रा में लाने के चलते एक दिन का समय मांगा। उपायुक्त विकाससिंह सोलंकी से चर्चा के बाद रविवार से नए स्थान पर ही व्यापार करने पर सभी सहमत हो गए और धरना समाप्त कर दिया।

त्रिपोलिया गेट में सड़कों पर रखा सामान जब्त, अतिक्रमण हटाया

सड़कों से सब्जी विक्रेताओं को हटाने के बाद त्रिपोलिया गेट क्षेत्र में कई दुकानदारों ने सड़क पर सामान रखकर व्यापार करना प्रारंभ कर दिया था। शनिवार को ऐसी दुकानों के बाहर रखा सामान जब्त किया। सागोद रोड क्षेत्र में भी कार्रवाई की गई। इस दौरान दुकानदारों से निगम अमले की बहस भी हो गई।

विक्रेताओं को दी जाए सभी सुविधाएं

पूर्व गृहमंत्री हिम्मत कोठारी ने प्रशासन व नगर निगम से नए स्थानों पर फल-सब्जी विक्रेताओं को सभी बुनियादी सुविधाएं देने की मांग की है। कोठारी ने कहा कि गर्मी में धूप से बचाव के लिए इंतजाम के साथ पीने की पानी की भी व्यवस्था की जाए। कच्ची जगह होने से बारिश में विक्रेताओं को परेशानी होगी, इसके लिए ओटले बनाकर पैवर ब्लाक लगाए जाएं। गरीब वर्ग होने से बाजार बैठक के नाम पर होने वाली वसूली भी बंद की जाना चाहिए। रात में फेरी लगाकर व्यापार करने वालों के लिए भी सुविधाएं दें।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local