रतलाम। दिल्ली-मुंबई रेल लाइन पर जिला मुख्यालय से करीब 14 किलोमीटर दूर ग्राम आमलीपाड़ा के समीप बाइक पटरियो से कुछ दूर खड़ीब करके एक युवक ट्रेन के सामने जाकर कुद गया। इससे उसकी मौत हो गई व उसका शरीर क्षत-विक्षत हो गया। सूचना मिलने पर पुलिस व स्वजन मौके पर पहुंचे। घटना स्थल की जांच के बाद पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भिजवाया। मृतक की शिनाख्त रेडीमेड गारमेंट व्यापारी संजय यादव निवासी सुभाष नगर के रूप में हुई है।

पुलिस के अनुसार शनिवार सुबह मोरवनी रेलवे स्टेशन के स्टेशन मास्टर अनिल महावर से सूचना मिली थी कि एक युवक की ट्रेन के सामने कूदने से मौत हो गई है। सूचना पर दीनदयाल नगर थाना के एसआइ नारायणसिंह राठौर मौके पर पहुंचे। वहां रेलवे के की मैन शैतान मईड़ा, आरपीएफ के जवान व कुछ लोग मौजूद थे। मृतक के पास एक मोबाइल फोन व 34 वर्षीय संजय यादव पुत्र नन्दकिशोर यादव निवासी सुभाष नगर का आधार कार्ड मिला। इसी बीच उसके मोबाइल फोन पर काल आई तो कीमेन शैतान मईड़ा ने रिसीव किया तो फोन उसकी पत्नी का था। उन्हें घटना की जानकारी दी गई।

इसके बाद स्वजन व संजय के कई परिचित भी मौके पर पहुंचे व शव संजय का ही होना बताया। एसआइ राठौर ने बताया कि मौके पर उपस्थित किमैन शैतान मईड़ा ने जानकारी दी कि उन्हें डेमू ट्रेन के गार्ड ने जानकारी दी थी कि ट्रेन के सामने युवक कूद गया था। वह पहियों में फंस गया है। तब उसे बाहर निकाला गया। संजय ग्राम रावटी में रेडीमेड गारमेंट की दुकान चलाता है व कुछ समय से वहीं रह रहा है। उसके ट्रेन के सामने कूदने का कारण पता नहीं चला है मामले की जांच की जा रही है। उसका शव दोपहर डेढ़ बजे जिला अस्पताल लाया गया। पोस्टमार्टम के बाद शव स्वजन को सौंप दिया गया।

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local