-हथियारबंद बदमाशों ने दिया वारदात को अंजाम

रतलाम/आलोट, नईदुनिया प्रतिनिधि। रतलाम जिले में चोरी और लूट की वारदातों को अंजाम देने के साथ ही बदमाश डकैती भी करने लगे हैं। चोरी और लूट की वारदातें लगातार हो रही हैं। पुलिस वारदातों को रोकने में असफल हो रही है। वहीं शनिवार की रात आलोट नगर से करीब एक किलोमीटर दूर ग्राम जीवनगढ़ में 15 बदमाशों ने एक किसान के घर डकैती की वारदात काे अंजाम दिया। डकैत हजारों रुपये लेकर भाग निकले। इस दौरान नींद खुलने पर परिवार के लोग जागे और शोर मचाया ताे आसपास के ग्रामीण भी उठे और डकैतों का पीछा किया। ग्रामीणों ने एक डकैत को पकड़कर उसकी जमकर पिटाई की। इससे वह घायल हो गया, उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस अन्य आरोपिताें की तलाश में जगह-जगह दबिश दे रही है।

जानकारी के अनुसार करीब 15 हथियारबंद बदमाश जीप व बाइकों से जीवनगढ़ में रात करीब साढ़े तीन बजे किसान पूर सिंह कछावा के घर के पास पहुंचे। कुछ बदमाश पीछे लकड़ी की सीड़ी एवं साड़ी के फंदे से ऊपर चढ़कर खिड़की के पास पहुंचे। खिड़की के कांच का दरवाजा तोड़कर वे अंदर घुसे व अलमारी में रखे 92 हजार रुपये लेकर भागने लगे। परिवार के लोगों की खटपट की आवाज से नींद खुली तो उन्होंने शोर मचाया। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। घायल बदमाश को आलोट के सरकारी अस्पताल ले जाया गया। वहां से उसे जिला अस्पताल रेफर किया गया। पुलिस आराेपित से उसके अन्य साथियों के बारे में पूछताछ कर रही है।

थाने में लगी भीड़, वारदातों पर अंकुश के लिए दो दिन पहले दिया था ज्ञापनः रविवार सुबह आलोट थाने में ग्रामीणों की भीड़ लग गई । लोगों ने जमकर आक्रोश व्यक्त किया। उल्लेखनीय है कि दो दिन पहले ही ताल में नागरिकों ने लूट और चोरी की बढ़ती वारदातों को लेकर रोष जाहिर करते हुए एसपी के नाम तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा था व वारदातों पर अंकुश लगाने की मांग की थी। वारदातों पर अंकुश लगने की बजाय डकैती की वारदात हो गई। दो सप्ताह पहले ताल थाना क्षेत्र के सांगाखेड़ा फंटे के पास पेट्रोलकर्मी को भी लूट लिया गया था। इसके अलावा पिछले छह माह में आलोट व ताल क्षेत्र में 50 से अधिक चोरी की वारदातें हो चुकी हैं।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close