रतलाम। रतलाम मंडल में कार्यरत तीन कर्मचारियों सहित पश्चिम रेलवे के कुल नौ कर्मचारियों को महाप्रबंधक आलोक कंसल द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सम्मानित किया गया।

मंडल रेल प्रवक्ता जेके जयंती ने बताया कि ट्रेन परिचालन में कर्मचारियों द्वारा सबसे महत्वपूर्ण कार्य ट्रेन का संरक्षित परिचालन है। इस कार्य में रेलवे की कुछ विभागों की काफी महत्वपूर्ण भूमिका रहती है, जिनकी सजगता के कारण संभावित दुर्घटनाओं को रोका जाता है। सहायक लोको पायलट रोहतास सिंह 13 अक्टूबर को गोधरा-रतलाम खंड में लोको नंबर 23790 23570 जीएससीएन पर कार्यरत थे। ट्रेन गोधरा से चलने के बाद जैकोट स्टेशन पर खड़ी होने पर सहायक लोको पायलट द्वारा गाड़ी के सामान्य जांच के दौरान व्हील नंबर दो के ऊपर बोगी लगभग क्रेक पाई गई। इसकी सूचना संबंधित को दी गई तथा एक संभावित दुर्घटना को रोका गया। 23 अक्टूबर को गुड्स गार्ड देवराज बी. रावटी स्टेशन के लाइन नंबर चार पर ट्रेन का जीडीआर कर रहे थे। इसी दौरान मेनलाइन से पास हो रही डाउन मालगाड़ी सीएनए में इंजन से सोलहवीं वैगन में इनके द्वारा हॉट एक्सल देखा गया। इनके द्वारा बिना समय गंवाए सीएनए गुड्स ट्रेन के गार्ड को लालबत्ती दिखाया गया तथा वॉकी-टॉकी से लोको पायलट, गार्ड, स्टेशन मास्टर को सूचित किया गया। हॉट एक्सल गाड़ी को मोरवानी स्टेशन पर काटकर रवाना किया गया।

वरिष्ठ सेक्शन इंजीनीयर रेल पथ दीपक कैथवास द्वारा भैरोगढ़ में माही नदी पर स्थित ब्रिज संख्या 226 की सभी फिटिंग्स को काफी शीघ्रता से मानकीकृत किया गया। इससे संरक्षा में वृद्धि होने के साथ ही साथ फिटिंग्स लूज होने की घटना भी कम हो गई है। इसके अतिरिक्त मानसून पूर्व तैयारियां व संरक्षा को बढ़ाने के लिए रेल स्टॉप डेड एंड को भी शीघ्रता के साथ मानकीकृत किया गया।

उक्त कर्मचारियों द्वारा किए गए संभावित दुर्घटनाओं को रोकने व रेल संरक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य के लिए परे महाप्रबंधक आलोक कंसल द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सम्मानित किया गया। इसके अतिरिक्त दूसरे मंडलों के सात अन्य कर्मचारियों को भी महाप्रबंधक द्वारा सम्मानित किया गया। मंडल रेल प्रबंधक विनीत गुप्ता द्वारा प्रत्यक्ष रूप से महाप्रबंधक की ऑनलाइन उपस्थिति में तीनों कर्मचारियों को सम्मानित किया गया। इस दौरान अन्य अधिकारी भी उपस्थित रहे।

सेवानिवृत्ति पर किया सम्मान

रतलाम। भारतीय जीवन बीमा निगम की काटजू नगर स्थित शाखा क्रमांक-एक में समारोह आयोजित कर प्रकाशचंद्र लसोड़ को सेवानिवृत्त पर विदाई दी गई। लसोड़ ने 18 वर्षों से अधिक समय तक मृत्यु दावा विभाग में उत्कृष्ट कार्य किया। अभिकर्ताओं की ओर से मनीष टांक, सतीश चौरड़िया, कैलाश प्रजापत, अंबाराम पाटीदार, प्रीतिबाला मंडलोई तथा लियाफी शाखा के संरक्षक व वरिष्ठ अभिकर्ता महेंद्र छाजेड़ ने संबोधित किया। शाखा प्रबंधक श्री शैलेंद्र व्यास, लियाफी मंडल इंदौर के उपाध्यक्ष शरद चतुर्वेदी, प्रीतिबाला मंडलोई ने लसोड़ के सेवा काल की प्रशंसा की। कार्यक्रम में पदाधिकारियों द्वारा लसोड़ का शॉल, श्रीफल तथा अभिनंदन पत्र प्रदान कर सम्मान किया गया। मोहन पाटीदार ने स्मृति चि- प्रदान किया। अभिनंदन पत्र का वाचन परामर्शदाता सुरेश राठौर ने किया। राम मोटिया, राकेश गुर्जर, दिनेश सारस्वत, मुकेश खंडेलवाल, संदीप सकलेचा, धनसिंह राठौर, लक्ष्‌मीनारायण करमैया, विजय सिरोलिया, प्रफुल्ल व्यास, राधेश्याम कसेरा, दीपक सालवी, ईश्वरलाल चौधरी, किशोर जाधव, चंद्रशेखर सोलंकी सहित अन्य अभिकर्ता उपस्थित थे। संचालन वरिष्ठ अभिकर्ता चेतन पड़ियार ने किया। आभार संदीप निगम ने माना।

डॉ. चौहान का सम्मान

रतलाम। पीस ऑफ इंडिया मध्य प्रदेश युवा मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष जितेंद्र ठन्नाा धाकड़ द्वारा डॉ. रोहित चौहान को कोरोना वारियर्स का प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर पीस ऑफ इंडिया मध्य प्रदेश उपाध्यक्ष अभिषेक कुरवारा, अजहर खान, मोहित, अमित, वैभव, चिराग आदि उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags