रतलाम (नईदुनिया प्रतिनिधि)। सरकारी अमला लोगों को कोरोना का टीका लगवाने के लिए प्रेरित कर रहा है। व्यापारियों पर टीका लगवाए बगैर व्यापार नहीं करने का दबाव है, वहीं दूसरी ओर एक सप्ताह से लगातार डोज की कमी बनी हुई है। गुरुवार व शुक्रवार को टीकाकरण निरस्त भी करना पड़ा है। शनिवार को शहर के आइएमए हाल राजेंद्रनगर, पुराना कलेक्टोरेट गुलाब चक्कर के पास और माहेश्चरी भवन कसेरा बाजार पर टीकाकरण होगा। सभी जगह को-वैक्सीन की दूसरी डोज लगेगी, जिसमें 18 साल से अधिक और 45 साल अधिक उम्र वाले शामिल हैं। 600 टीके आनलाइन बुकिंग पर और 600 आनस्पाट बुकिंग पर लगेंगे।

मालूम हो कि अब तक जिले में दो लाख 34 हजार 546 लोगों का टीकाकरण हुआ है, जिसमें एक लाख 98 हजार 826 को प्रथम और 35720 को दूसरी डोज लगी है। अब तक 11 लाख 17 हजार 893 का लोगों को टीका लगाने का लक्ष्‌य था, लेकिन 17.97 फीसद ही लक्ष्‌य पूरा हुआ है। सीएमएचओ डा. प्रभाकर ननावरे ने बताया कि अभी डोज की कमी है, इसलिए केंद्रों की संख्या कम कर दी गई है। 18 से 44 वर्ष व 45 वर्ष से अधिक आयु समूह के ऐसे लोग जिनको को-वैक्सीन का टीका लगवाने के बाद 28 दिन का समय पूर्ण हो चुका है वे शनिवार को केंद्र पर उपस्थित होकर टीकाकरण करवा सकते हैं। इसके लिए प्री-बुकिंग करवाना आवश्यक नहीं है।

कोरोना से बचाव के लिए टीका जरूरी है, लेकिन केंद्रों पर चक्कर लगाना पड़ रहे हैं। एक तरफ शासन-प्रशासन टीका लगवाने के लिए प्रेरित कर रहा है और डराकर दबाव भी बना रहे हैं, दूसरी ओर इनके पास डोज ही नहीं है। ऐसे कैसे कोरोना की जंग जीत पाएंगे। - रीना राठौड़, गृहिणी

लोग टीका लगवाना चाहते हैं। केंद्रों पर ताले लटक रहे हैं। पूछने पर बताया जाता है कि टीका उपलब्ध ही नहीं है। लगते भी तो बहुत कम लोगों का ही नंबर आता है। जिला प्रशासन टीका लगवाने के लिए लगातार प्रेरित कर रहा है, लेकिन जब डोज ही नहीं रहेगी तो अभियान कैसे सफल होगा। - पंकज पुरोहित, निवासी मोहन टाकीज

तीन दिन से टीका लगवाने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन केंद्रों पर वैक्सीन उपलब्ध नहीं है। प्रशासन को ध्यान देना चाहिए कि जिस तरह टीका लगवाने के लिए प्रेरित कर रहे हैं, उसी तरह केंद्रों में डोज भी उपलब्ध हों। लोग परेशान हो रहे हैं। -अजय सिंह चौहान, निवासी राजस्व कालोनी

जब से युवाओं का टीकाकरण शुरू हुआ तब से डोज कम पड़ रहे हैं। शहरी क्षेत्रों में तो थोड़ी बहुत लग भी रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में तो केंद्र पर ताला लग गया है। लोग रोज वैक्सीन के लिए आना-जाना कर रहे हैं। - सपना चावड़ा, निवासी धराड़

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags