रतलाम-जावरा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। भारतमाला परियोजना में निर्माणाधीन नई दिल्ली-मुंबई 8 लेन एक्सप्रेस वे का निरीक्षण केंद्रीय सड़क व परिवहन मंत्री नितिन गडकरी आज जावरा के समीप भूतेड़ा में करेंगे। दोपहर 3ः15 बजे चापर से जावरा पहुंचने वाले केंद्रीय मंत्री का सुरक्षा अमला बुधवार शाम को जावरा पहुंच गया। बुधवार को भूतेड़ा के समीप कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण करने विधायक डा. राजेंद्र पांडेय, कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम व एसपी गौरव तिवारी भी पहुंचे। यहां तीन हेलीपेड बनाए गए हैं। डा. पांडेय व जिला अधिकारियों ने मार्ग निर्माण कार्य की एजेंसी के अधिकारियों से भी चर्चा की। केंद्रीय मंत्री के निरीक्षण के लिए हाइस्पीड एसयूवी गाड़ियां भी बुलवाई गई हैं। इसमें वे 100 किमी से अधिक की स्पीड पर सफर कर सड़क निर्माण की गुणवत्ता परखेंगे।

मार्ग निर्माण में समस्या को लेकर करेंगे चर्चा

एक्सप्रेस वे निर्माण में आ रही समस्याओं को लेकर केंद्रीय मंत्री गडकरी से विधायक डा. राजेंद्र पांडेय विशेष चर्चा करेंगे। विधायक डा. पांडेय ने बताया कि एक्सप्रेस वे निर्माण से विभिन्ना ग्रामीण स्थानों पर क्षतिग्रस्त हो रही सड़कों व मार्गों की मरम्मत, सड़क निर्माण के समीप पर्याप्त जल निकासी व्यवस्था, ग्राम लालाखेड़ा, भूतेड़ा, सादाखेड़ी, मिंडाजी गोठड़ा, मन्याखेड़ी आदि स्थानों पर अंडरब्रिज निर्माण की चौड़ाई व ऊंचाई बढ़ाने, सड़क के समीप खेतो में आने जाने के लिए सर्विस लेन, जमीन के मुआवजे संबंधी समस्याओं के निराकरण की मांग की जाएगी।

कांग्रेस ने की काले झंडे दिखाने की तैयारी

- केंद्रीय मंत्री से बात नहीं करने देने का आरोप

जावरा। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को एक्सप्रेस वे निर्माण में किसानों के खेत खराब होने सहित अन्य समस्याओं से अवगत कराने के लिए क्षेत्र में कांग्रेस के नेता अलग-अलग स्तर पर सक्रिय हैं। जिपं के पूर्व उपाध्यक्ष वीरेंद्रसिंह सोलंकी ने कहा कि किसानों की वाजिब समस्याओं के समाधान को लेकर जब जनप्रतिनिधि केंद्रीय मंत्री तक पहुंचना चाह रहे हैं तो हमें रोकने का भरसक प्रयास हो रहा है। यदि हमें मिलने से रोका गया तो किसान सैकड़ों की संख्या में काले झंडे लेकर विरोध प्रदर्शन करेंगे।

सोलंकी ने यह चेतावनी देते हुए बताया कि समस्याओं को लेकर आलोट विधायक मनोज चावला के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल के साथ मिलना चाह रहे थे। जिला प्रशासन के अड़ियल रवैये के कारण अप्रिय स्थितियां निर्मित होती दिख रही हैं। सोलंकी ने 8 लेन किनारे स्थित सभी पीड़ित कृषकों से गुुरुवार दोपहर तीन बजे काले झंडे लेकर भूतेड़ा पहुंचने की अपील की है।

माली समाज का कार्यक्रम निरस्त

नौ सितंबर को आकाशीय बिजली गिरने से राधाकिशन पुत्र पीरूलाल माली की मौत हो गई थी। माली समाज द्वारा एक्सप्रेस-वे निर्माण कंपनी जीआरआइ से मृतक के परिवार को मदद का आवेदन दिया था। कंपनी द्वारा बुधवार को माली समाज एवं परिवार के सदस्यों को परिवार की मदद का आश्वासन दिया। कंपनी के आश्वासन के बाद माली समाज द्वारा कार्यक्रम निरस्त किया गया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local