आलोट (नईदुनिया न्यूज)। नगर से करीब चार किलोमीटर दूर शिप्रा नदी में डूबे युवक का 24 घंटे बाद भी पता नहीं चल पाया। राहत दल ने रविवार को भी दिनभर युवक की तलाश की, लेकिन वह नहीं मिला। शाम करीब पांच बजे तेज हवाओं के साथ बारिश शुरू होने से खोज अभियान एक घंटे पहले रोकना पड़ा।

उल्लेखनीय है कि जेवर बनाने का कारीगर 38 वर्षीय गोपाल उर्फ पप्पू सोनी पुत्र शंकरलाल सोनी निवासी नया बाजार बड़े भाई कोमल सोनी, पुत्र 13 वर्षीय वात्सल्य व सात वर्षीय किट्टू के साथ शनिवार शाम करीब पांच बजे शिप्रा नदी के दसवें घाट पर पूजन सामग्री विसर्जित करने गया था। पैर फिसलने से वह नदी में गिरकर पानी में बह गया था।

बारिश के कारण रोका अभियान

बड़े भाई कोमल ने पुलिस व अन्य लोगों को जानकारी दी थी। ग्रामीणों व गोताखोरों ने उसकी काफी देर तक खोजबीन की, लेकिन वह नहीं मिला। रविवार सुबह दस बजे एसडीआरएफ टीम रतलाम के प्रभारी बद्री मंडलोई के नेतृत्व में मौके पर पहुंची। उनके साथ एसडीआरएफ एवं डीआरसी टीम आलोट के जवानों व अन्य तैराकों ने लाइफ जैकेट, रस्सी ट्यूब, बिलई, बांस आदि की मदद से तलाशी अभियान चलाया व नदी में पांच से सात किलोमीटर दूर तक अनेक स्थानों पर उसकी तलाश की। शाम को बारिश होने से अभियान रोकना पड़ा।

तालाब में डूबने से बालिका की मौत

रतलाम। शिवगढ़ थाना क्षेत्र के ग्राम केलदा के समीप स्थित तालाब में डूबने से सात वर्षीय पायल पुत्री नारायण मईड़ा निवासी ग्राम केलदा की मौत हो गई। जानकारी के अनुसार पायल, साथी बालिका कृष्णा व अन्य के साथ रविवार सुबह तालाब पर गई थी। वे तालाब के पानी में उतरकर नहा रहे थे, तभी पायल पानी में डूब गई। कृष्णा व अन्य बालिका ने तत्काल गांव में जाकर पायल के स्वजन व अन्य लोगों को जानकारी ली। ग्रामीण व स्वजन मौके पर पहुंचे व कुछ देर बाद पायल को बाहर निकाला, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। पुलिस भी मौके पर पहुंची व घटना की जानकारी लेकर शव जिला अस्पताल भिजवाया। पुलिस के अनुसार पोस्टमार्टम के बाद शव स्वजन को सौंप दिया गया। मामले की जांच की जा रही है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local