Singrauli News : सिंगरौली (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि कांग्रेस के एक नेता भारत जोड़ो यात्रा पर निकले हैं, क्या भारत टूटा है, भारत को जो टूटना था, वह 1947 में ही टूट चुका है। भारत माता के दो टुकड़े भारत और पाकिस्तान हो गए थे। उस समय भी हमारे नेताओं की हसरत थी कि भारत टूटना नहीं चाहिए, यह किन परिस्थितियों में हुआ, मैं इस पर टिप्पणी नहीं करूंगा। राहुल गांधी कह रहे हैं कि हिंदुस्तान में चारों ओर नफरत ही नफरत है। मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि भारत में नफरत फैलाने का काम कौन कर रहा है। सारी दुनिया में कांग्रेस भारत को बदनाम कर रही है, इन्हें जवाब देना चाहिए। राहुल गांधी को उन्होंने नसीहत भी दी कि वह भारत की छवि खराब नहीं करें।

केंद्रीय रक्षा मंत्री रविवार को सिंगरौली में मुख्यमंत्री आवास एवं भू अधिकार योजना के अंतर्गत निश्शुल्क भूखंड वितरण कार्यक्रम में पहुंचे थे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ राजनाथ सिंह ने कार्यक्रम में 25500 गरीब परिवारों को निश्शुल्क भूखंड आवंटित किए। साथ ही किसान कल्याण योजना के तहत 6 लाख 64 हजार किसानों को 135 करोड़ 60 लाख रुपये से अधिक की राशि वितरित की गई। हितग्राही सम्मेलन में सिंगरौली जिले को 408 करोड़ रुपये की पांच निर्माण परियोजनाओं की सौगात मिली।

अपने संबोधन में राजनाथ सिंह ने कहा कि मध्‍य प्रदेश सरकार की यह योजना प्रशंंसनीय है। गरीबों का कल्‍याण हमारी प्राथम‍िकता है। कार्यक्रम से पहले कन्‍यापूजन भी किया गया।

मुख्यमंत्री मंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रभारी बृजेंद्र प्रताप सिंह ने गड़हरा में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने आए केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का स्वागत किया।

वर्ष 2047 में भारत सबसे धनवान देश होगा

रक्षा मंत्री ने कहा कि वर्ष 2014 में भारत की अर्थव्यवस्था 10वें नंबर पर थी। आठ वर्ष में पांचवें नंबर पर पहुंच गई है। वर्ष 2027 में भारत की अर्थव्यवस्था तीसरे नंबर पर होगी। ऐसे ही हम काम करते रहे तो वर्ष 2047 में भारत सबसे धनवान देश होगा।

शिवराज के अच्छे कामों का जनता देती है प्रमाण पत्र

राजनाथ सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान हमेशा लोक कल्याणकारी योजनाओं को लेकर कार्य करते रहे हैं। जब भी विधानसभा चुनाव होता है तो जनता शिवराज सिंह को विजयी बनाकर उनके अच्छे काम का प्रमाण पत्र देती है। केंद्र में मोदी सरकार और मध्य प्रदेश में शिवराज सरकार गरीबों के कल्याण के लिए समर्पित हैं। गरीबों का कल्याण हमारी प्रतिबद्धता, प्रेरणा और जीवन का मंत्र है।

मेडिकल कालेज, रेलवे ओवरब्रिज सहित मिलीं कई सौगात

रक्षामंत्री तथा मुख्यमंत्री ने सिंगरौली मेडिकल कालेज भवन का शिलान्यास किया। इसका निर्माण ग्राम नौगढ़ में किया जा रहा है। इसके लिए 25 एकड़ जमीन आवंटित की गई है। मेडिकल कालेज भवन परिसर निर्माण के लिए 248 करोड़ 27 लाख रुपये मंजूर किए गए हैं। इसके साथ तियरा में बनाए जा रहे माइनिंग कालेज परिसर का भी शिलान्यास किया गया। इसके लिए प्रशासन द्वारा 65 हेक्टेयर जमीन आवंटित की गई है। यह 60 करोड़ 30 लाख रुपये की लागत से बनेगा। बैढ़न विकासखंड के ग्राम हिर्रवाह में 33 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले सीएम राइज स्कूल का और बरगवां में रेलवे ओवरब्रिज का शिलान्यास भी किया गया।

गरीबों की सेवा सामाजिक न्याय का अनुष्ठान है : शिवराज

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश में हर गरीब को निश्शुल्क प्लाट रहने के लिए दिए जाएंगे। इसके साथ ही जल, जमीन और जंगल का मालिकाना हक किसानों को दिया जाएगा। पूरे मध्य प्रदेश की धरती पर कोई भी गरीब जमीन से वंचित नहीं रहेगा। प्रदेश में यह सामाजिक न्याय का नया अध्याय है, यह गरीबों की सेवा का अनुष्ठान है। इसमें पूरी सरकार जिम्मेदारी के साथ अपने कर्तव्यों का निर्वहन करेगी।

यह भी बोले राजनाथ...

- पीएम मोदी ने कई कदम उठाए। किसी ने सोचा नहीं था कि 2024 तक देश के सभी गरीबों को अपनी छत मिल जाएगी, पीने का पानी मिल जाएगा, रसोई गैस सिलिंडर मिल जाएगा।

- आयुष्मान जैसी योजना दुनिया के किसी भी देश में देखने को नहीं मिलती है।

- मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की गरीबों के प्रति प्रतिबद्धता न होती, तो आज जो गरीबों को जमीन मिल रही है, वह न मिलती! भाजपा ऐसी पार्टी है, जो कहती है, वह करती है।

- शिवराज जी, आपने यहां माइनिंग और ऊर्जा कालेज की सौगात दी है, यहां से निकलने वाले बच्चे केवल यहां नहीं, बल्कि हिंदुस्तान के सभी क्षेत्रों और दुनिया भर में जाकर अपनी भूमिका निभाएंगे।

माइनिंग इंजीनियरिंग कालेज का शिलान्यास

इससे पहले शिवराज ने कहा कि मुख्यमंत्री आवासीय भू-अधिकार योजना में 25 हजार से अधिक जरूरतमंद लोगों को आवास के लिए एक साथ निश्‍शुल्क भूखण्ड आवंटित करना राज्य सरकार का क्रांतिकारी कदम है। इससे इन परिवारों के जीवन में सकारात्मक बदलाव आएगा और स्वयं के आवास के लिए भूमि का अधिकार मिलने से परिवारों का आत्म-विश्वास भी बढ़ेगा। सिंगरौली से ही रीवा संभाग के चार जिलों के किसानों के खाते में मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना की राशि भी सिंगल क्लिक से अंतरित की गई। साथ ही सिंगरौली में मेडिकल कॉलेज, माइनिंग इंजीनियरिंग कॉलेज और सीएम राइज स्कूल हिर्रवाह (बैढ़न) एवं चकारिया का शिलान्यास भी किया गया।

सिंगरौली में मुख्यमंत्री आवासीय भू-अधिकार योजना में जिले की पंचायत क्षेत्रों के 25 हजार 412 हितग्राहियों को भूखंड आवंटित किए गए। योजना में जिन गरीब परिवारों के पास रहने के लिए पर्याप्त आवास नहीं हैं और स्वयं की भूमि भी नहीं है। ऐसे प्रत्येक परिवार को शासन द्वारा 60 वर्ग मीटर का निश्‍शुल्क भूखंड आवंटित किया जाएगा। जिले में 421 एकड़ रकबे में हितग्राहियों को निश्‍शुल्क भूखण्ड आवंटित किए गए।

मुख्यमंत्री चौहान ने मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना में सिंगरौली से ही रीवा संभाग के सिंगरौली सहित सीधी-सतना और रीवा जिले के 6 लाख 78 हजार 408 किसानों के खातों में 135 करोड़ 68 लाख रुपये सिंगल क्लिक से अंतरित किए।

मुख्यमंत्री ने 248 करोड़ 27 लाख रुपये की लागत से बनने वाले सिंगरौली शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय, 60 करोड़ 30 लाख रुपये की लागत से बनने वाले माइनिंग इंजीनियरिंग कॉलेज और 33 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले सीएम राइज स्कूल हिर्रवाह (बैढ़न) तथा 31 करोड़ 40 लाख रुपये की लागत से बनने वाले सीएम राइज स्कूल चकरिया का शिलान्यास भी किया।

Posted By: Jitendra Richhariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close