सबके सहयोग से ही सफल होगा कोरोना टीकाकरण अभियान

रीवा। नईदुनिया न्यूज

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से 16 जनवरी से शुरू हो रहे कोरोना टीकाकरण अभियान के संबंध में अधिकारियों को निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना वैक्सीन प्रदेश की जनता के लिए कोरोना मुक्ति देने वाली संजीवनी बूटी है।

वर्तमान में वैक्सीन ही कोरोना से बचाव का सबसे कारगर उपाय है। यह वैक्सीन वैज्ञानिकों के अथक प्रयासों और कई परीक्षणों के बाद जारी की गई है। कोरोना वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित और कारगर है। सबसे पहले प्रदेश के चार लाख से अधिक स्वास्थ्य कर्मियों तथा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को कोरोना टीके लगाए जाएंगे। उसके बाद पुलिस, नगरीय निकाय के अधिकारियों, कर्मचारियों तथा राजस्व अमले को कोरोना के टीके लगेंगे। इसके बाद प्रदेश के 50 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों को टीके लगाए जाएगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि 16 जनवरी से विर्श्व का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान शुरू हो रहा है। इसके लिये पूरे प्रदेश में टीकाकरण के लिए व्यापक प्रबंध किए गए हैं।

कमिश्नर और कलेक्टर इन प्रबंधों की सतत निगरानी रखें। मुख्यमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक में शामिल धर्म गुरूओं तथा जनप्रतिनिधियों से अपील करते हुए कहा कि कोरोना टीकाकरण के लिए सकारात्मक वातावरण बनाए। कोविड टीके पूरी तरह से सुरक्षित है। इसके संबंध में कोई भी व्यक्ति भ्रामक बातें न करे। यह टीका हर व्यक्ति के जीवन की सुरक्षा के लिए है। मुख्यमंत्री ने मीडिया के मित्रों से भी कोरोना टीकाकरण के लिए सकारात्मक वातावरण बनाने की अपील की। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रत्येक वैक्सीन के थोड़े बहुत दुष्प्रभाव होते हैं। टीके लगाने के बाद हजारों, लाखों व्यक्तियों में से किसी एक को थोड़ी-बहुत परेशानी होती है। इससे निपटने के लिए प्रत्येक कोरोना टीकाकरण केन्द्र में पर्याप्त व्यवस्थायें की गई हैं। टीकाकरण अभियान में प्रत्येक केन्द्र में पहला टीका सफाईकर्मी भाई को लगेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना का संकट प्रदेश के लिए बहुत बड़ा संकट था। देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने कोरोना संकट से निपटने में देश का सफल नेतृत्व किया। उनकी दूर दृष्टि और सतत प्रयासों से ही कोरोना टीके का विकास करने में वैज्ञानिक सफल हुए। मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी कलेक्टर वैक्सीन के भण्डारण, परिवहन तथा टीकाकरण केन्द्रों में उचित व्यवस्थाए सुनिश्चित करें।

ये रहे उपस्थित

कलेक्ट्रेट के एनआईसी केन्द्र से वीडियो कान्फ्रेंसिंग में विभिन्ना्‌ा समुदायों के धर्म गुरू, विधायक सिरमौर दिव्यराज सिंह, रीवा संभाग के कमिश्नर राजेश कुमार जैन, कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी, संयुक्त संचालक स्वास्थ्य डॉ. आरपी पटेल, डीन मेडिकल कालेज डॉ. मनोज इंदुलकर, अधीक्षक संजय गांधी हास्पिटल, उप संचालक डॉ. संजीव शुक्ला, उप संचालक डॉ. एनपी पाठक तथा अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस