रीवा।नईदुनिया प्रतिनिधि

जिले की हनुमना पुलिस ने धान का अवैध परिवहन कर रहे एक ट्रक को पकड़ा है। सूत्रों की मानें तो पुलिस के मुखबिर ने यूपी के मिर्जापुर से एमपी के रीवा आ रहे धान के अवैध खेप की सूचना दी थी। ऐसे में वरिष्ठ अधिकारियों को सूचना देकर हाइवे में घेराबंदी की गई। चेकिंग के दौरान मऊगंज चौराहे के पास एक संदिग्ध ट्रक दिखा। तलाशी में 663 बोरी अवैध धान मिला। परिवहन के संबंध में दस्तावेज मांगे तो चालक ने गोलमोल जवाब दिया। ऐसे में ट्रक को जब्त कर हनुमना थाने में खड़ा कराया गया है। जहां अग्रिम कार्रवाई के लिए खाद्य विभाग को सौंप दिया गया है।

हनुमना थाना प्रभारी शैल यादव ने बताया कि गत 17 और 18 जनवरी की दरमियान रात्रि गस्त के दौरान मुखबिर के बताए अनुसार ट्रक क्रमांक यूपी63एटी 5111 को पकड़कर थाने लाया गया था। पूछताछ में चालक ने बताया है कि उत्तर प्रदेश से अवैध धान परिवहन कर मप्र के उपार्जन केंद्र में बिक्री के लिए लाया था। हालांकि थाना पुलिस ने चालक से धान के अवैध कारोबारियों के बारे में गहनता से जानकारी जुटाई है।

नहीं मिला धान का दस्तावेज : हनुमना कस्बे के मोटवा चौराहे पर जब ट्रक रोककर चालक से परिवहन संबंधी दस्तावेज मांगे गए तो वह चौंक गया। चर्चा है कि मऊगंज क्षेत्र के किसी व्यापारी की धान थी। जो सस्ते दाम में खरीदकर समर्थन मूल्य पर बेचने के लिए मंगाया था।

बढ़ाई गई है खरीद केंद्र की तिथि : आपको बताते चलें कि हाल में ही नागरिक आपूर्ति विभाग भोपाल द्वारा जिले में हो रही समर्थन मूल्य में धान खरीद की तिथि को बढ़ाया गया है जिसके पीछे तर केह दिया गया था कि कुछ किसान अभी धान बिक्री करने से वंचित रह गए हैं साथी हवाला दिया गया था कि बारिश के कारण किसान खरीद केंद्र तक अपनी उपज नहीं पहुंचा पाए हैं जिसे लेकर 20 जनवरी तक खरीद केंद्र की तिथि बढ़ाई गई थी इसी का लाभ उठाने के लिए उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश की सीमा पर स्थित खरीद केंद्र तक बिचौलिए उत्तर प्रदेश की धाम पहुंचाने का प्रयास कर रहे हैं अब तक बार्डर पर यह चौथी कार्रवाई की गई है।

वर्जन.....

ट्रक में धान लोड था जिसे रोककर जरूरी दस्तावेज देखने के लिए मांगे गए। चालक द्वारा उक्त दस्तावेज नहीं प्रस्तुत किया गया है। जिसके कारण प्रकरण दर्ज कर पूरा मामला खाद्य विभाग रीवा के सुपुर्द जांच के लिए दिया गया है, धान मिर्जापुर से हनुमना लाया गया था।

शिवकुमार वर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रीवा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local