सागर(नवदुनिया प्रतिनिधि)।

गो सेवा संघ के शताब्दी वर्ष समारोह में आचार्य स्वामी धर्मेंद्र महाराज के निर्देशन में रविवार को धर्मसभा एवं गोपाष्टमी कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान विधायक निधि से निर्मित बाउंड्रीवाल का लोकार्पण भी किया गया।

गो सेवा संघ के 100 वें वर्ष में प्रवेश के अवसर पर तीन दिवसीय शताब्दी वर्ष कार्यक्रम के उपलक्ष्‌य में यह धर्मसभा आयोजित की गई थी। इस दौरान उन्होंने गो सेवा संघ के सौ वर्षो के लगातार संघर्ष एवं विकास पर प्रकाश डालते हुए वर्तमान में विश्व के कल्याण के लिए गोमाता की शरण में जाने का सुझाव दिया। उन्होंने गाय माता के आधार पर की जाने वाली पारंपरिक खेती का पक्ष लेते हुए गाय को राष्ट्र की उन्नाति का मूल आधार बताया। भारत की सनातनी परंपरा को बनाए रखने के लिए शिक्षा पद्धति को संस्कृति आधारित होने पर जोर देते हुए अंग्रेजियत मुक्त भारत बनाने का संकल्प लेने जोर दिया। उन्होंने नया संदेश दिया कि देश की समस्त समस्याओं का कारण देश भक्ति की कमी का होना है। अतः देश की समस्याओं के निराकरण के लिए मूल मंत्र होना चाहिए देशभक्तों का साथ, देशभक्ति का विकास, उन्होंने कहा कि भारत भूमि पुण्यभूमि है, स्वर्ग से भी श्रेष्ठ है। भगवान रामजी 14 वर्ष के वनवास के दौरान सोने की लंका को जीतने के बाद लक्ष्‌मण जी से कहते हैं मुझे मेरी जन्मभूमि स्वर्ग से भी प्रिय है और यह स्वर्णनगरी लंका मुझे तनिक भी नहीं भाती ।

आचार्यश्री ने गायों का पूजन कर किया गो-पालकों का किया सम्मान

गो सेवा संघ परिसर मोतीनगर में आचार्य श्री के सानिध्य में गोपाष्टमी कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान गायों का पूजन करने के बाद गो-पालकों का सम्मान किया गया। गो माता के निमित्त विशिष्ट सेवाएं देने पर नगर विधायक शैलेंद्र जैन एवं कमल पाहवा को गो भक्त का प्रशस्ति पत्र दिया गया। इस अवसर पर भावपूर्ण वातावरण में आचार्य श्री गोशाला का काव्यात्मक पाठ किया। विधायक निधि से निर्मित राशि 2.75 लाख की बाउंड्रीवाल का लोकार्पण कार्यक्रम पंचखंड पीठाधीश्वर आचार्य स्वामी धर्मेंद्र महाराज एवं सागर नगर विधायक शैलेंद्र जैन के कर कमलों हुआ। कार्यक्रम के दौरान विधायक गोपालकों के साथ नृत्य करते हुए भी दिखे। कार्यक्रम में जयपुर विराट नगर से पधारे संत ब्रजमोहन शर्मा, रामगोपाल शर्मा के अलावा गो सेवा संघ के संरक्षक संतोषी सोनी मारूति, सुरेश सोनी, अध्यक्ष लोकनाथ मिश्र, उपाध्यक्ष कमल पाहवा, कोषाघ्याक्ष अरविंद घोषी, सचिव रूपकिशोर अग्रवाल, सहसचिव जगदेव सिंह ठाकुर, सदस्य महेन्द्र गुप्ता, प्रभात मिश्रा, अनिल अवस्थी, जितेन्द्र साहू एडवोकेट, प्रेम घोषी, राजेन्द्र घोषी, पप्पू तिवारी, गणेश सोनी, रणछोड़ी सोनी, प्रदीप राजौरिया, अनिल रजक, राजेन्द्र जारोलिया, शिवनारायण सोनी, बद्रीविशाल रावत, अवतार सिंह राजपूत शामिल थे। आचार्य स्वामी सोमवार को सुबह 10 बजे गो सेवा संघ के संरक्षक लालचंद घोषी के निवास पर समस्त शिष्य मंडल से मुलाकात करेंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस