भाजपा ने धरना देकर पहले किया बिजली कंपनी का घेराव, फिर पहुंचे नपा

बीना। नवदुनिया न्यूज

बढ़े हुए बिजली बिलों के विरोध में भारतीय जनता पार्टी ने सर्वोदय चौराहे पर धरना दिया गया। धरना उपरांत पैदल मार्च करते हुए भाजपा कार्यकर्ताओं ने पहले बिजली कंपनी का घेराव किया और फिर बाद में वह नगरपालिका पहुंचे। यहां पांच दिन से गहराए जल संकट के लिए सीएमओ से सवाल-जबाव कर जिम्मेदारों के विरुद्ध कार्यवाही की मांग की। भाजपा ने सर्वोदय चौराहे पर दोपहर 1 बजे से धरना दिया। बढ़े हुए बिजली बिलों के विरोध में भाजपा नेताओं ने स्थानीय अधिकारियों को आड़े हाथों लिया। विधायक महेश राय ने कहा कि बिजली बिल दोगुने से ज्यादा आ रहे हैं। वक्त बदलाव है की बात करके कांग्रेस ने आम जनता को ठग लिया है। किसान परेशान है, बिजली उपभोक्ता परेशान है। नगरपालिका, जनपद, तहसील की व्यवस्थाओं से आम जन परेशान हैं। जिनके पास नोट हैं, उनके ही काम हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार के लोगों का एक ही काम है कि वह ट्रांसफर उद्योग के माध्यम से कमाने में लगे हुए हैं। जब देखो तब ट्रांसफर। इस दौरान भाजपा के जिला उपाध्यक्ष गौरव सिरोठिया, पूर्व मंडी अध्यक्ष लोकेंद्र सिंह, पूर्व मंडल अध्यक्ष मनोज शर्मा, करोड़ी यादव, विजय हुरकट, राजेंद्र ताम्रकार सहित अन्य ने भी धरने को संबोधित किया। दोपहर 3 बजे तक धरना देने के बाद सभी भाजपा नेता व कार्यकर्ता एकत्रित होकर पैदल मार्च के लिए निकले और कॉलेज तिराहा पहुंचकर विद्युत मंडल कार्यालय का घेराव किया।

भारी सुरक्षा के बीच सौंपा ज्ञापन

बिजली कंपनी कार्यालय के घेराव की जानकारी पहले से पुलिस को थी। लिहाजा बड़ी संख्या में पुलिस बल पहले से यहां मौजूद था। सुरक्षा घेरे के बीच केवल विधायक को कार्यालय परिसर में घुसने दिया गया। बाद में कार्यकर्ताओं ने भी धक्का-मुक्की की कोशिश की, लेकिन उन्हें पुलिस ने रोक दिया। विधायक श्री राय ने कार्यपालन यंत्री नितिन डेहरिया को उपभोक्ताओं की परेशानी से अवगत कराया और राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा।

नपा का घेराव करने पहुंचे भाजपाई

विद्युत मंडल के अधिकारियों के समक्ष अपनी बात रखने के बाद विधायक समेत सभी भाजपा नेता व कार्यकर्ता पैदल ही नगरपालिका पहुंचे। यहां नपा का मेन गेट पुलिस ने एहतियातन बंद कर रखा था। सभी लोग बाहर रुके और सीएमओ पूरन सिंह बुंदेला को बुलाया। पहले सभी ने सीएमओ के विरोध में नारे बाजी की और बाद में जल सप्लाई के संबंध में पूछा। जिस पर सीएमओ ने बताया कि शाम तक पानी की सप्लाई शुरू हो जाएगी। इस दौरान नपा उपाध्यक्ष भूपेंद्र सिंह ने कांग्रेस नेताओं के नपाध्यक्ष की कुर्सी पर बैठने के मामले में एफआईआर कराने की बात कही। इस पर विधायक ने पहले तो कहा कि यह अध्यक्ष का मामला है, उन्हें आकर मामला दर्ज कराना चाहिए। बाद में उन्होंने सीएमओ से कहा कि नगरपालिका में अनुसूचित जाति की नपाध्यक्ष की कुर्सी पर कांग्रेस नेताओं ने बैठकर गलत किया है। उन पर नियमानुसार कार्यवाही की जाए।

1907एसए 144 : भाजपा नेताओं ने दिया धरना।

1907एसए 145 : बिजली बिलों के विरोध में निकाला पैदल मार्च।

1907एसए 146 : मंडल कार्यालय के बाहर की धक्का मुक्की।

1907एसए 147 : सीएमओ को चेताया।