बर्फीली हवाओं से फिर लुढ़का पारा, सामान्य से नीचे पहुंचा

- गुरुवार को दिन का पारा 21.8 सामान्य से 3 डिग्री कम, रात का 11 डिग्री, सामान्य से 1 डिग्री कम दर्ज किया गया

सागर (नवदुनिया प्रतिनिधि)।

बसंत पंचमी पर सुबह कोहरे की चादर लपेटे हुए आई। बीते चार दिनों से तापमान सामान्य से अधिक हो गया था, लेकिन दो दिन से उत्तर भारत की बर्फबारी के असर से बुंदेलखंड इलाका फिर ठिठुरने लगा है। गुरुवार को सुबह जब लोगों की आंख खुली तो सागर के कई इलाके घने कोहरे के आगोश में थे। बर्फीली हवाएं तेज ठंड का अहसास करा रही थीं। दिन और रात के तापमान में भी गिरावट आई है। पारा सामान्य से नीचे लुढ़क गया है।

शुक्रवार को दिन का अधिकतम तापमान लुढ़ककर 21.8 डिग्री दर्ज किया गया। यह सामान्य से तीन कम है। वहीं रात का न्यूनतम तापमान 11 डिग्री सामान्य से 1 डिग्री कम रहा, जबकि महज 48 घंटे पहले तक दिन-रात का तापमान सामान्य से चार से पांच डिग्री तक अधिक पहुंच रहा था। उत्तर भारत में बर्फबारी का दौर फिर से शुरू होने के कारण मैदानी इलाकों में सर्द हवाएं अपना असर दिखा रही हैं। आगामी 48 घंटे तक मौसम ऐसा ही रहने की संभावना है, उसके बाद गलन वाली ठंड से निजात मिल सकेगी। इधर, बसंत पंचमी के दिन गुरुवार को सुबह 6 बजे के बाद से 8 बजे के बीच शहर के बाहरी इलाकों में घना कोहरा छाया रहा। दुपहिया और तिपहिया वाहन चालकों को हेड लाइट जलाकर सड़क पर चलना पड़ रहा था। कैंट इलाके में मैदानों से लेकर सड़क तक कोहरा छाया हुआ था।

3001 एसए- 1, 2 सागर। बसंत पंचमी पर सर्दी का दौर फिर लौटा है। सुबह कुछ इस तरह कोहरे के आगोश में सिमटी हुई थी।

Posted By: Nai Dunia News Network