सागर(नवदुनिया प्रतिनिधि)। जिले में मंगलवार को अचानक हुई तेज बारिश से शहर की सड़कें लबालब हो गई। राधा तिराहा से लेकर कटरा जामा मस्जिद ही नहीं बल्कि शहर के कई वार्डों की सड़कों पर पानी भर गया। वहीं जगह-जगह खुले पड़े गहरे नाले वर्षा के पानी में लबालब होकर बहते रहे, जिससे अब शहर में पैदल चलना भी खतरे से खाली नहीं हैं। दो घंटे की वर्षा ने साबित कर दिया है कि नगर निगम प्रशासन का नाला सफाई अभियान सिर्फ फोटो खिचवाने तक ही सीमित रहा है।

शहर में बिना प्लानिंग चल रहे निर्माण कार्य दो घंटे की वर्षा में ही शहरवासियों के लिए मुसीबत बन गए। सबसे ज्यादा परेशानी करीब एक माह पहले नगर निगम प्रशासन द्वारा पुलिस के सहयोग से नालों के ऊपर की फर्श तोड़ने से हो रही है, जबकि यहां नालों की सफाई के नाम पर सिर्फ औपचारिकता ही हुई है। नालों का यह गंदा पानी शहर की सड़कों पर बहता हुआ नजर आया, जिससे पैदल चलने वाले लोगों व दुकानदारों को परेशानी हुई। फुटपाथ पर बैठकर रोजगार करने वाले लोग सड़कों पर पानी भरने से अपना सामान समेटकर उसे सुरक्षित बचाते हुए दिखे। राधा तिराहा की ओर नदी की तरह नालों का पानी तेज बहाव से सड़क पर बह रहा था, जिसे देखकर लोग सहम उठे थे।

दुकानों के बाहर खुदे पड़े 10 फीट तक गहरे नाले

तीनबत्ती से राधा तिराहा के बीच यदि कोई खरीदी करने जा रहा है तो यहां दुकानों के बाहर एक-एक कदम भी अच्छी तरह जांच करने के बाद ही उठाने की जरूरत है। नगर निगम प्रशासन द्वारा करीब एक माह पहले सड़क के दोनों ओर बनी दुकानों के बाहर के नाले खोद दिए थे, जिससे यहां के दुकानदार अब भी परेशान हो रहे हैं। कई दुकानदारों का व्यापार भी प्रभावित हो रहा है तो कुछ ने काम चलाऊ फर्शी रखकर ग्राहकों को आने की व्यवस्था की है। दुकानादारों का कहना है कि नाले खुले होने से तेज हवा के कारण दुकानों का सामान गिरकर खराब हो रहा है, लेकिन अब इनमें एक आदमी आराम से डूब जाए इतनी तेज बहाव से पानी बहता हुआ नजर आ रहा है। यदि कोई धोखे से इसमें गिर जाएगा तो नाले के पानी उसकी जान पर खतरा भी बन सकता है। कई व्यापारी इंटरनेट मीडिया पर शहर के इन जानलेवा नालों की फोटो भी शेयर करते हुए दिखे।

राधा तिराहा पर वाहनों के पहिए डूबे

स्मार्ट सिटी प्राधिकरण द्वारा पूरे शहर में निर्माण कार्य किए जा रहे हैं जो अब शहरवासियों के लिए ही सबसे ज्यादा परेशानी बन रहे हैं। मंगलवार की शाम हुई तेज बारिश से राधा तिराहा से कटरा बाजार तक कई जगह सड़कों पर वर्षा व नालों का पानी भर गया, जिससे यहां सड़क किनारे खड़े वाहनों के पहिए व इंजन भी डूब गए। करीब दो घंटे बाद वर्षा तो थम गई, लेकिन यहां इसके बाद भी घंटों पानी भरा रहा। शहर के इस तरह के हालात देखकर लोग नगर निगम प्रशासन, स्मार्ट सिटी के अधिकारियों से लेकर भाजपा नेताओं के लिए कोसती रही। तेज बारिश से नया बाजार में नालियों का पानी सड़कों पर जमा हो गया, जिसे दुकानदार साफ करते हुए दिखे।

अंडरब्रिज के नीचे लगता रहा जाम, गलियां बनी तालाब

तेज वर्षा के कारण रेलवे अंडरब्रिज के नीचे भी काफी पानी भर गया था, जिससे यहां ट्रैफिक जाम होता रहा। सड़क के दोनों ओर वाहनों की लंबी-लंबी कतारे लग गई थी, जिस कारण लोग रास्ता बदलकर अपने गंतव्य तक पहुंचे। जलभराव के यह हालात सिर्फ यहां ही नहीं था, बल्कि लक्ष्‌मीपुरा, तिलकगंज सहित अन्य कई स्थानों पर जलभराव होने की फोटों लोग इंटरनेट मीडिया पर शेयर कर रहे थे। कई वार्डों में तालाब तो कई जगह नदियों जैसा तेज बहाव वाला नजारा भी नजर आया। शहर के ऐसे हालात जब शुरुआती वर्षा में ही नजर आने लगे हैं तो फिर सावन की झड़ी में क्या होगा यह सोचकर भी लोग डरे हुए हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close