सागर(नवदुनिया प्रतिनिधि)। नगरीय निकाय चुनाव में छुटपुट घटनाओं को छोड़कर बुधवार को शांतिपूर्ण तरीके से मतदान हुआ। सागर निगम के चुनाव में सुबह 7 बजे से शाम पांच बजे तक शहर में 60.90 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। कुछ जगह मशीनों में खराबी, एक दो तो कुछ जगह मूलभूत समस्याओं को लेकर लोगों ने मतदान के पहले विरोध जताया, लेकिन प्रशासनिक अधिकारियों की समझाइश के बाद यहां मतदान शुरू हो गया। शहर में दो से तीन जगह झगड़े भी हुए, लेकिन हालात बिगड़ने से पहले प्रशासन ने उसे काबू कर लिया। कई जगह कांग्रेसी फर्जी मतदान होने की शिकायत करते रहे, लेकिन जब सुनवाई नहीं हुई तो उन्होंने आक्रोश भी जताया। मतदान के अंतिम घंटे में तेज वर्षा होने के बाद भी कई मतदाता केंद्र में पहुंचे और वोट डाली। कुछ केंद्रों में शाम छह बजे तक मतदान चलता रहा।

देश के महापर्व पर मतदान केंद्रों में सुबह 7 बजे से ही मतदाता पहुंचना शुरू हो गए थे। किसी ने मंदिर व दुकान पहुंचने से पहले तो किसी ने भोजन बनाने के पहले अपने मतदान केंद्रों में पहुंचकर वोट डाला। मतदान को लेकर लोगों में इतना उत्साह था कि सात फेरे से पहले कई दूल्हा-दुल्हन वोट डालने पहुंचे तो कई वृद्ध व्हीलचेयर, लकड़ी और परिजनों के सहारे मतदान करने पहुंचे। वोट डालने के बाद कई युवा अपनी फोटो इंटरनेट मीडिया पर डालते हुए नजर आए। सुबह 10 बजे के बाद कई मतदान केंद्रों में लोगों की लंबी-लंबी कतारें भी लगी रही। कांग्रेस प्रत्याशी निधि सुनील जैन एवं भाजपा प्रत्याशी संगीता सुशील तिवारी सहित पार्टी के जिलाध्यक्षों ने मतदान केंद्रों में पहुंचकर जायजा भी लिया।

फर्जी मतदान का आरोप, पुलिस की गाड़ी के सामने बैठा कांग्रेस का प्रत्याशी

नगरीय निकाय चुनाव को लेकर शहर के कई मतदान केंद्रों में पुलिस और कांग्रेस कार्यकर्ताओं एवं कांग्रेस व भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच जमकर नोकझोंक भी हुई। पदमाकर स्कूल में लाजपतपुरा वार्ड के कांग्रेस के प्रत्याशी साबिर अली ने अपने बूथ एजेंट को पुलिस द्वारा जबरन उठाने व फर्जी मतदान के आरोप लगाते हुए नाराजगी जताई। पुलिस जब नहीं मानी तो वह अपने समर्थकों के साथ पुलिस की गाड़ी के सामने बैठ गए और विरोध जताया, जिसके बाद पुलिस ने एजेंट को समझाइश देकर छोड़ दिया। इसके बाद शहर कांग्रेस अध्यक्ष रेखा चौधरी व चुनाव प्रभारी सुरेंद्र सुहाने मौके पर पहुंचे और नाराजगी जताई। केंद्र के आसपास लोगों की भीड़ एकत्रित होने पर पुलिस यहां कई बार भीड़ को खेदड़ती हुई दिखी।

रविशंकर स्कूल में सेवादल अध्यक्ष को पुलिस ले गई थाने

रविशंकर स्कूल में पुलिस द्वारा सेवादल के अध्यक्ष सिंटू कटारे को शिकायतों के आधार पर मोतीनगर थाने में ले गई। मोतीनगर पुलिस यहां पहुंची और सुबह करीब पौने दस बजे सिंटू कटारे को उठाकर थाने ले गई और शाम करीब पौन 5 बजे छोड़ा। कांग्रेस प्रत्याशी निधि सुनील जैन यहां पहुंचे और पुलिस के खिलाफ नाराजगी जताई। इसके बाद पुलिस ने यहां कांग्रेस एवं भाजपा नेताओं को अंदर नहीं जाने दिया, जिसके बाद यहां दोनों ही दलों के कार्यकर्ता नाराजगी जताते हुए दिखे। भाजपा नेता विनोद प्रजापति ने पुलिस पर वोट डालने से रोकने के आरोप भी लगाए। वहीं शहर कांग्रेस अध्यक्ष ने भी कई केंद्रों में पुलिस एवं प्रशासन के खिलाफ नाराजगी जताई।

एम्बुलेंस से मतदान करने पहुंचे हेमंत जैन

सागर के बरियाघाट वार्ड के मतदाता व क्वालिप्लाजिया बीमारी के इलाज के लिए भाग्योदय अस्पताल में भर्ती 95 प्रतिशत निश्शक्त हो चुके सेवानिवृत्त कर्मचारी हेमंत जैन ने लोकतंत्र के प्रति अपनी सच्ची आस्था का परिचय दिया। वे कई दिनों से अस्पताल में भर्ती है, लेकिन इस बीच नगर निगम के चुनाव में मतदान करने से वे स्वयं को रोक नहीं पाए। अस्पताल से श्री जैन ने 5 जुलाई को कलेक्टर दीपक आर्य से अनुरोध किया था कि वे अपना वोट डालना चाहते है, इसके लिए उन्हें एम्बुलेंस की सुविधा दिलाई जाए। कलेक्टर ने भी मतदान केन्द्र लाने और वापस ले जाने के लिए एम्बुलेंस की व्यवस्था करवाई। स्वास्थ्य कर्मियों की मदद से स्ट्रेचर पर एम्बुलेंस द्वारा सीधे महिला विद्यालय स्थित मतदान केन्द्र क्रमांक-209 पहुंचे और अपने मताधिकार का उपयोग किया। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र की मजबूती, अच्छी साकार और देश के भविष्य के लिए सभी को वोट देना चाहिए।

कलेक्टर व एसपी ने जप्त की चुनाव चिन्ह वाली मतदान पर्चियां

कलेक्टर दीपक आर्य एवं पुलिस अधीक्षक तरुण नायक ने नगरीय निकाय निर्वाचन 2022 के प्रथम चरण में सागर की मतदान केंद्र क्रमांक 177 से 184 के बाहर बने मतदाताओं की सुविधाओं के लिए सुविधा केंद्रों से चुनाव चिन्ह अंकित मतदान पर्चियों को जप्त किया। सेक्टर अधिकारी एवं तहसीलदार संजय दुबे ने बताया कि उच्चतर माध्यमिक शाला रविशंकर विद्यालय में बने केंद्र क्रमांक 177 से 184 के सामने मतदाताओं की सुविधा की सुविधा केंद्र पर कांग्रेस प्रत्याशी द्वारा मतदाताओं को चुनाव चिन्ह अंकित मतदान पर्चियों को जप्त किया है। इसी प्रकार निर्वाचन अधिकारियों द्वारा शहर के मतदान केंद्र क्रमांक 222, 223, 224, 225, 226 एवं 227 के पास बने प्रत्याशी सुविधा केंद्र से भी उक्त राजनैतिक दल की चुनाव चिन्ह युक्त मतदाता पर्ची को जब्त किया गया।

दूल्हा ने किया मतदान, हर बार मतदान करने का लिया वचन

मतदान को लेकर दूल्हों का उत्साह भी कम नहीं रहा। शहर के कई मतदान केंद्रों में दूल्हा, दुल्हन मतदान करने पहुंचे जिसे देखकर दूसरे लोग भी मतदान के प्रति प्रेरित हुए। कृष्णगंज वार्ड निवासी गोविंद दुबे ने अपनी बरात दुल्हन के घर ले जाने से पहले गर्ल्स डिग्री कालेज पहुंचकर वोट डाला। गोविंद दुबे ने कहा-वोट का अधिकार पहले लेना है पहले लोकतंत्र के महायज्ञ में शामिल होंगे। इसके बाद ही अपनी बरात लेकर बहू को लाने जाएंगे। विवाह में आचार्य रामचरण शास्त्री, श्रीहरि एवं शिवनारायण शास्त्री ने सात वचन के साथ ही दूल्हा दुल्हन को आठवां वचन दिलाया की जीवन पर्यंत अपने मत का उपयोग करके एक अच्छी और नेक सरकार बनाएंगे अग्नि को साक्षी मानकर दोनो ने मतदान करने का संकल्प लिया।

मतदान केन्द्रों पर लगा कोविड का बूस्टर टीका

मतदान केंद्रों में मतदाताओं को कोविड का बूस्टर टीका भी लगाया गया। केन्द्र में तैनात एएनएम भागवती ने बताया कि दोपहर 3 बजे तक 22 व्यक्तियों को कोविशील्ड का बूस्टर टीका लगाया जा चुका है और ऐसे मतदाता जिनको बूस्टर डोज नहीं लगा है, उनको बूस्टर डोज लगाए जाएंगे। उल्लेखनीय है कि मतदाताओं की सुविधाओं के लिए नगरीय निकाय निर्वाचन के पहले चरण में विभिन्ना मतदान केन्द्रों पर कोविड के बूस्टर डोज के लिए आवश्यक इंतजाम किए गए थे। कोविड टीकाकरण के लिए मतदान केन्द्रों पर कोविड-19 के टीकाकरण के लिए बूथ बनाए गए थे। इन मतदान केन्द्रों पर कोविड टीकाकरण दल द्वारा मतदाताओं को छूटे हुए द्वितीय डोज एवं प्रिकाशन डोज के बूस्टर डोज लगाए गए।

पिता के अंतिम संस्कार के बाद बेटा पहुंचा वोट डालने

मोहननगर वार्ड निवासी अनिकेत साहू अपने पिता कामताप्रसाद साहू के अंतिम संस्कार के बाद सीधे रविशंकर स्कूल में मतदान करने पहुंचा। उसके पिता कामता प्रसाद साहू की सीढ़ी से गिरने से मौत हो गई थी। वोट डालने के बाद बेटा अनिकेत साहू बोला मैंने मतदान करके अपना कर्तव्य का पालन जागरूकता लाने के लिए किया है।

मतदान करने में दिव्यांग भी नहीं रहे पीछे, बढ़-चढ़कर लिया हिस्सा

मतदान में जहां युवा, महिलाएं और बुजुर्ग भी बढ़ चढ़कर हिस्सा ले रहे थे, वहीं दिव्यांगजन भी किसी से पीछे नहीं थे। शहर के राजीव नगर स्थित मतदान केंद्र क्रमांक 179 रविशंकर शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक शाला पूर्वी भाग में स्थापित किया गया है। यहां 85 वर्षीय दिव्यांग बुजुर्ग खेमचंद पटेल अपने स्वजन के साथ मतदान करने पहुंचे तो एक युवा दिव्यांग राकेश साहू भी अपने सहयोगी के साथ वोट डालने के लिए आया। राकेश साहू ने बताया कि मतदान करना उनका अधिकार और नैतिक उत्तरदायित्व भी है। जब सब लोग वोट डाल रहे है तो हम क्यों पीछे रहे। बाघराज वार्ड, पदमाकर स्कूल सहित शहर के अन्य कई केंद्रों में भी कई दिव्यांग मतदान करने पहुंचे।

पहली बार वोट डालकर युवा उत्साहित

नगरीय निकाय निर्वाचन के प्रथम चरण में सुबह से ही मतदान के लिए उत्साहित चेहरों की लंबी कतारें लगी देखी गई। इन कतारों में पहली बार अपने वोट का उपयोग करने वाले फर्स्ट टाइम वोटर्स भी शामिल थे, जो बहुत उत्साहित नजर आए। सागर संभाग के कमिश्नर कार्यालय में पदस्थ अनुराग पटेरिया की पुत्री अनुकृति पटेरिया और पुत्र अरिहंत पटेरिया ने इस वर्ष पहली बार अपने मताधिकार का उपयोग किया। उन्होंने अपना अनुभव साझा करते हुए कहा कि वे मतदान को लेकर काफी दिनों से उत्साहित थे, आज वोटिंग करके एक सशक्त नागरिक होने का अनुभव कर रहे हैं। वहीं शहर के लगभग सभी केंद्रों में पहली बार मतदान करने वाले युवा भी पहुंचे जो वोट डालने के बाद अपनी फोटो इंटरनेट मीडिया पर शेयर करते हुए नजर आए।

कमिश्नर ने स्वजनों के साथ किया मतदान

सागर संभाग के कमिश्नर मुकेश शुक्ला ने अपनी धर्मपत्नी नीरजा शुक्ला और पुत्र डाक्टर देवपुरी शुक्ला के साथ सिविल लाइन वार्ड स्थित स्वीडिश मिशन उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में स्थापित मतदान केंद्र में मतदान किया। श्री शुक्ला और उनके परिवार ने अन्य मतदाताओं की तरह लाइन में लगकर प्रतीक्षा की व मतदान किया। मतदान के बाद शुक्ला परिवार ने अंगुली में लगी स्याही को भी प्रदर्शित किया। इसके पूर्व उन्होंने जिले के निर्वाचन प्रेक्षक निसार अहमद के साथ सिविल लाइन वार्ड के स्वीडिश मिशन उच्चतर माध्यमिक विद्यालय स्थित मतदान केंद्र का निरीक्षण भी किया।

कलेक्टर और एसपी ने मतदान केन्द्रों का निरीक्षण किया

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी दीपक आर्य, पुलिस अधीक्षक तरूण नायक एवं जिला पंचायत के सीइओ क्षितिज सिंघल ने नगरीय निकायों के प्रथम चरण के मतदान के दिन सागर में विभिन्ना मतदान केन्द्रों का निरीक्षण किया। अधिकारियों ने पदमाकर उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय परिसर, एकीकृत माध्यमिक शाला शुक्रवारी स्थित मतदान केन्द्रों, तिली चौराहा स्थित माध्यमिक शाला, मोहननगर माध्यमिक शाला स्थित बनाए गए मतदान केन्द्रों और पंडित रविशंकर शुक्ला कन्या उच्चतर माध्यमिक शाला में बनाए गए मतदान केन्द्रों का निरीक्षण किया। कलेक्टर ने केन्द्रों के पीठासीन अधिकारियों एवं मतदान दलों से मतदान के संबंध में जानकारी प्राप्त की। पुलिस अधीक्षक तरूण नायक ने मतदान केन्द्रों पर तैनात पुलिस सुरक्षा कर्मियों से कहा कि मतदान केन्द्रों के आसपास मतदाताओं के अलावा अन्य लोगों की मौजूदगी न रहे। कलेक्टर श्री आर्य ने कलेक्टर कार्यालय के कक्ष क्रमांक-218 में बने एमसीएमसी कक्ष का निरीक्षण भी किया व कर्मचारियों को प्रोत्साहित किया।

युवाओं, बुजुर्गों, महिलाओं ने मतदान में दिखाया उत्साह

सागर में नगर निगम, मकरोनिया बुजुर्ग और रहली नगर पालिका परिषद व शाहपुर, बिलहरा व सुरखी नगर परिषद के लिए हुए मतदान रूपी लोकोत्सव में मतदाताओं ने बढ़-बढ़कर भागीदारी की। सुबह 7 बजे मतदान शुरू होने के बाद ही इन निर्वाचन क्षेत्रों के मतदान केन्द्रों पर मतदाताओं का पहुंचना शुरू हो गया था। 2 घंटे यानि सुबह 9 बजे के बाद तो मतदान केन्द्रों पर मतदाताओं की कतारें लगना शुरू हो गई थी। सागर नगर निगम में महापौर और 48 वार्ड के पार्षदों के लिए मतदान हुआ, जबकि 5 अन्य नगरीय निकाय में पार्षद पद के लिए वोट डाले गए।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close