Madhya Pradesh News: सागर (नवदुनिया प्रतिनिधि)। मध्‍य प्रदेश के सागर जिले के बंडा ब्लॉक मुख्यालय से चार किमी दूर जगथर गांव में करीब 4 साल से सूखे पड़े हैंडपंप से ज्वलनशील शील गैस निकल रही है। बुधवार की सुबह जगथर के राजमंदिर के पास लगे एक हैंडपंप में सरसराहट की आवाज आने पर एक व्यक्ति ने हैंडपंप के पास तीली जलाई तो निकल रही गैस ने आग पकड़ ली।

हैंडपंप से ज्वलनशील शील गैस निकलने की घटना के बाद गांव के लोग डरे हुए हैं। वहीं इस बारे में गांववालों का कहना है कि हैंडपंप चार साल से बंद पड़ा है। हैंडपंप से गैस निकलने की आवाज आ रही थी। गैस से गंध भी आ रही थी।

सागर जिले के अन्‍य गांवों में भी हुई ऐसी घटनाएं

गांव वालों का कहना है कि बंडा क्षेत्र के बेसली, खिरया, मगरदा, राख, गनयारी सहित अन्य गांव में पहले भी इस तरह की ज्वलनशील गैस निकलने के मामले सामने आ गए हैं।

वहीं इस मामले में सागर के डॉ. हरी सिंह गौर विवि के भूगर्भ शास्त्री प्रोत्र पीके कठल का कहना है कि हैंडपंप के आसपास आग न जलाएं। लापरवाही बरतने पर बड़ी घटना हो सकती है। उन्होंने कहा कि जमीन के अंदर विंध्य शैल है। उसमें कार्बन के कणों की अधिकता है, जो पानी के संपर्क में आने से ग्रेन रूप में बदलकर ज्वलनशील गैस के रूप में निकलती है। उनका कहना है कि बरसात के दिनों में गैस की तीव्रता थोड़ी ज्यादा बढ़ जाती है। ग्रामीणों को सलाह है कि वे हैंडपंप से दूर रहें। उसके पास आग न जलाएं। इससे बड़ी घटना हो सकती है।

मध्‍य प्रदेश के सागर जिले के

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local