सागर (नवदुनिया प्रतिनिधि)।

अमावनी में बनाए जा रहे ट्रांसपोर्ट नगर से लगी पहाड़ी पर बड़े स्तर पर पौधरोपण कर इसे भी डा. हरीसिंह गौर विश्वविद्यालय की पहाड़ी की तरह हरा-भरा बनाएं। यह पहाड़ी घने वृक्षों के विकसित होने पर एक जंगल का आकार लेगी। पर्यावरण संरक्षण के इस कार्य से यहां की सुंदरता बढ़ने के साथ-साथ ध्वनि जैसे विभिन्ना प्रदूषणों को कम किया जा सकेगा। यह निर्देश कलेक्टर सह अध्यक्ष एसएससीएल दीपक आर्य ने मंगलवार को दिए। वे नगर निगम आयुक्त सह कार्यकारी निदेशक एसएससीएल चंद्रशेखर शुक्ला और स्मार्ट सिटी सीईओ राहुल सिंह राजपूत के साथ ट्रांसपोर्ट नगर और भोपाल रोड पेरीफेरी बस स्टैंड का निरीक्षण कर रहे थे।

उन्होंने अमावनी में बनाए जा रहे ट्रांसपोर्ट नगर के निर्माण कार्य का जायजा लिया। पूरी तरह सुरक्षित कैंपस के रूप में बनाए जा रहे इस ट्रांसपोर्ट नगर की बाउंड्रीवॉल का अधिकांश काम पूरा किया जा चुका है। यहां सड़क निर्माण का कार्य भी तेजी से किया जा रहा है। इस सर्वसुविधायुक्त ट्रांसपोर्ट नगर से जल्दी ही ट्रांसपोर्टर्स को सुविधाएं मिलेंगी और बड़े वाहनों की आवाजाही से होने वाले यातायात दबाव एवं प्रदूषण से शहर को मुक्ति मिलेगी। कलेक्टर श्री आर्य ने यहां बिजली और पानी से संबंधित कार्य कराने के निर्देश दिए। यहां निर्माण स्थल के पास बसाहट है। उन्होंने निर्देश दिए कि बसाहट की ओर भी चेन फेंसिंग की जाए, जिससे ट्रांसपोर्ट नगर अलग रह सके। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि पास की पहाड़ी एवं खाली पड़े स्थलों पर नीम, करंज, शीशम, पीपल, बरगद आदि पौधे लगाकर वृहद प्लांटेशन करें और इसे भी यूनिवर्सिटी पहाड़ी की तरह हरा-भरा बनाएं, जिससे पर्यावरण संरक्षण के साथ सुंदरता भी बढ़ेगी। साथ ही ट्रकों एवं बड़े वाहनों से होने वाले ध्वनि प्रदूषण जैसे अन्य प्रदूषणों को कम किया जा सकेगा। उन्होंने भोपाल रोड पेरीफेरी बस स्टैंड पर निर्माण कार्य का भी निरीक्षण किया। अलग-अलग फेस में होने वाले इस बस स्टैंड के निर्माण में अभी टिकट काउंटर बिल्डिंग का निर्माण कार्य प्रगति पर है। फाउंडेशन कार्य पूर्ण होने के बाद पिलर्स व छत निर्माण किया जा रहा है। मैकेनिक काम्पलेक्स का निर्माण कार्य शुरू होने वाला है। इसके लिए अतिक्रमण को शीघ्र हटाकर निर्माण कार्य तेज गति से करने के निर्देश दिए। उन्होंने ड्रेन निर्माण के कार्य में तेजी लाने के निर्देश भी दिए। निरीक्षण के दौरान प्रतिभा शुक्ला सहायक वन संरक्षक सामाजिक वानिकी, स्मार्ट सिटी व पीएमसी के इंजीनियर्स और निर्माण एजेंसी के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close