सागर(नवदुनिया प्रतिनिधि)। मॉडल एक्ट के विरोध में मंडी कर्मचारियों की एवं मंडी शुल्क कम करने की मांग के साथ व्यापारियों की हड़ताल शनिवार को भी जारी रही। अनाज तिलहन एवं व्यापारी संघ के सदस्यों के मंडी में न पहुंचने से यहां तीसरे दिन भी सन्नााटा पसरा रहा तो वहीं मंडी के कर्मचारियों ने भी अपनी मांगों के संबंध में सरकार द्वारा कोई उचित निर्णय न लेने पर मंडी बोर्ड के आंचलिक कार्यालय के बाहर नारेबाजी की।

सितंबर माह के पहले सप्ताह में मंडी के व्यापारी और कर्मचारी दोनों ही हड़ताल कर चुके हैं। इस दौरान मुख्यमंत्री ने व्यापारियों व कर्मचारियों के प्रतिनिधिमंडल से अलग-अलग मुलाकात करके उन्हें 15 दिन में उनके पक्ष में निर्णय लेने का आश्वासन दिया था। 15 दिन से ज्यादा का समय गुजर जाने के बाद भी जब कोई निर्णय नहीं हुआ तो अब मंडी के व्यापारी व कर्मचारी विरोध जताने लगे हैं। अनाज तिलहन एवं व्यापारी संघ के अध्यक्ष महेश साहू का कहना है कि शुल्क कम करने, मॉडल एक्ट के कारण व्यापारियों द्वारा विरोध किया जा रहा है और हमारी मांगें जब तक पूरी नहीं हो जाती हैं हमारी हड़ताल जारी रहेगी।

कर्मचारियों ने कहा वेतन व पेंशन सुनिश्चित करें

मॉडल एक्ट के विरोध में मंडी के कर्मचारियों की हड़ताल शनिवार को भी जारी रही। कर्मचारियों ने मकरोनिया स्थित मंडी बोर्ड के आंचलिक कार्यालय के बाहर एकजुट होकर नारेबाजी की। उनका कहना है कि सरकार हमारे वेतन व पेंशन के बारे में सुनिश्चित करे। अब मांग पूरी होने तक हमारी हड़ताल जारी रहेगी। इस दौरान सुधीर मौर्य, सुनील शुक्ला, सरोज गर्ग, सुरेश मोरे, कमलेश सोनकर, रूपेश कोरी, जेपी चौरसिया, फूलचंद रजक, नेहा उर्मिल, प्रियंका राठौर एवं रश्मि घोषी सहित अन्य कई कर्मचारी मौजूद थे। सागर कृषि उपज मंडी के मुख्य गेट पर ताला लटका रहा और अंदर पूरे परिसर में दिनभर सन्नााटा पसरा रहा। रविवार को मंडी बंद होने के कारण अब सोमवार को भी खरीदी शुरू होने पर संशय बना हुआ है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020