- ग्रामीणों ने विधायक के साथ सचिव और सरपंच चलाने वाले पर लगाया भ्रष्टाचार का आरोप

बीना (नवदुनिया न्यूज)।

खजुरिया पंचायत में अनुसूचित जाति की सीधी-साधी महिला सरपंच को गुमराह कर गांव के दबंग केतार यादव पंचायत चला रहे हैं। ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि वह सचिव के साथ मिलकर सरकारी योजनाओं में जमकर भ्रष्टाचार कर रहे हैं। अपात्र लोगों को हितग्राही मूलक योजनाओं का लाभ दिला रहे हैं। पात्र हितग्राहियों के हितों की अनदेखी की जा रही है। दबंग की मनमानी से परेशानी दर्जनों ग्रामीणों ने सोमवार को विधायक महेश राय के साथ एसडीएम अमृता गर्ग से शिकायत कर पांच साल के कार्यकाल का रिकॉर्ड निकलवाकर जांच कर कार्रवाई की मांग की है।

शिकायत करने पहुंचे ग्रामीणों ने बताया कि रूपवती अहिरवार नाम के लिए सरपंच हैं। पंचायत तो केतार यादव चला रहे हैं। वह सचिव मनीष अवस्थी के साथ मिलकर हितग्राही मूलक योजनाओं में जमकर गड़बड़ी कर रहे हैं। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि उन्हें अपने परिजनों और परिचितों को गलत तरीके से योजनाओं का लाभ दिलाया है, जबकि पात्र लोग पंचायत और जनपद के चक्कर लगा रहे हैं। ऐसे लोगों को पीएम आवास योजना का लाभ दिलाया है जिनके पहले से पक्के मकान और कई एकड़ जमीन हैं। दूसरी और कच्चे मकानों से वर्षों से रह रहे पात्र लोगों के हितों की उपेक्षा की गई है। अन्य हितग्राही मूलक योजनाओं में भी यह चल रही है। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि कई काम तो पंचायत के रिकॉर्ड में पूरे हुए हैं। इसकी जांच की जाए तो बड़े स्तर पर गड़बड़ी सामाने आएगी। ग्रामीणों ने मांग की है कि पिछले पांच साल में जो भी विकास कार्य किए गए हैं उसका रिकॉर्ड निकलवाकर जांच कर आर्थिक गड़बड़ी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

मनरेगा में मशीनों से कराया काम

मनरेगा के अंतर्गत पंचायत में कई काम किए गए हैं। इनमें से ज्यादातर कामों में मशीनों को उपयोग किया गया है। मजदूरों के फर्जी मस्टर तैयार कर मजदूरी निकाली जा रही है। इसका सचिव और केतार यादव के बीच में बंदरबांट चल रहा है। ग्रामीणों ने कहा कि पिछले दो माह में मनरेगा के अंतर्गत जो भी काम किए गए उसकी भी जांच होनी चाहिए। इसमें खुलासा होगा कि किस तरह फर्जी मस्टर तैयार कर मजदूरी निकाली जा रही है।

भ्रष्टाचार करने वालों पर सख्त कार्रवाई हो

ग्रामीणों के साथ एसडीएम के पास पहुंचे विधायक ने कहा कि गांव के लोग लंबे समय से भ्रष्टाचार की शिकायत कर रहे हैं। उन्होंने एसडीएम से कहा कि इस पूरे मामले की जांच कराकर गड़बड़ी करने वालों पर सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। सरपंच पंचायत चलाने में असमर्थ हैं तो उन्हें धारा 40 के तहत पद से हटाने की कार्रवाई होनी चाहिए। इसके अलावा जांच में अर्थिक गड़बड़ी सामने आने पर पंचायत चलाने वाले केतार यादव और सचिव के खिलाफ भी सख्त कार्रवाई होना चाहिए।

0607 एसजीआर 144 बीना। एसडीएम को ज्ञापन देने से विधायक से की सचिव और पंचायत चलाने वाले केतार की मनमानी की शिकायत करते ग्रामीण।

---------------------------------------------------------------------------------------------

एक साल में केवल 35 प्रतिशत हुआ मेमू शेड का काम

ऑफिस, पिट लाइन, शेड का काम अधूरा, रेलवे कंस्ट्रक्शन बनवा रहा है शेड

बीना (नवदुनिया न्यूज)।

रेलवे लोको साइडिंग पर मेमू ट्रेन का मेंटेनेंस करने शेड बनवाया जा रहा है। एक साल से ज्यादा समय हो गया, लेकिन शेड तैयार नहीं हो सका है। अभी ऑफिस, पिट लाइन, शेड का काम अधूरा है। दिसंबर 2018 में इसका टेंडर हुआ था।

पश्चिम मध्य रेलवे अंतर्गत बीना-भोपाल के बीच मेमू ट्रेन चलती है। इसी तरह इंदौर-भोपाल तथा अन्य स्टेशनों के लिए भी मेमू ट्रेन का संचालन होता है। इस ट्रेन के मेंटेनेंस के लिए पश्चिम मध्य रेलवे द्वारा बीना में मेमू कार शेड का निर्माण कराया जा रहा है। तकरीबन 26 करोड़ की लागत से होने वाले कार्य का टेंडर नवंबर 2018 में हुआ था। उसके बाद लोको शेड को तोड़कर मेमू शेड का कार्य शुरू कराया गया। कार्य चलते एक साल से ज्यादा समय हो गया है, लेकिन अभी तक 50 प्रतिशत भी कार्य पूरा नहीं हुआ है। जानकारी अनुसार भोपाल मंडल अंतर्गत बीना तथा इटारसी में संयुक्त रूप से मेमू शेड बन रहा है। इसमें ट्रेन के लिए शेड, पिट लाइन, सर्विस लाइन के साथ स्टाफ के लिए ऑफिस भी बनेगा। प्रोजेक्ट इंजीनियर अब्दुल खान ने बताया कि काम लॉक डाउन के कारण प्रभावित हुआ है। जल्द ही इसे गति देकर पूरा कराया जाएगा। बारिश के कारण भी काम नहीं हो पा रहा है। कई मजदूर अभी भी अन्य शहरों में फंसे हुए हैं। ट्रेन नहीं चलने के कारण आ नहीं पा रहे हैं।

0607 एसजीआर 145 बीना। लोको साइडिंग पर मेमू का काम अधूरा है।

------------------------------------------------------------------------------------------

जब तक शिकायतें दूर नहीं होंगी, ब्रिज का काम शुरू नहीं होगा

- एनएच के अधिकारियों ने की लोगों से मुलाकात, कहा पहले बनेगी सर्विस रोड

बीना (नवदुनिया न्यूज)। खुरई रोड पर बनने वाले ओवरब्रिज का विरोध स्थानीय लोगों द्वारा किए जाने के बाद नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया के अधिकारियों ने सोमवार को भ्रमण किया। उन्होंने तहसीलदार संजय जैन के साथ स्थानीय लोगों से मुलाकात की और कहा कि जब तक सभी शिकायतों, विसंगतियों को दूर नहीं किया जाएगा, काम शुरू नहीं होगा। उन्होंने ब्रिज का काम शुरू करने के पहले सर्विस रोड बनाए जाने की बात भी कही।

एनएचएआई द्वारा खुरई रोड पर ओवरब्रिज का निर्माण कराया जा रहा है। ब्रिज की डिजाइन, सर्विस रोड की चौड़ाई तथा शिफ्ट किए जा रहे बिजली के खंभों को लेकर स्थानीय लोगों को आपत्ति है। जब अनुबंधित कॉन्ट्रेक्टर द्वारा बिजली के खंभों की शिफ्टिंग शुरू की गई तो स्थानीय लोगों ने खुरई रोड पर जाम लगा दिया। एसडीएम अमृता गर्ग ने आश्वासन देकर जाम खत्म कराया व एनएच के अधिकारियों से चर्चा की। उन्होंने नेशनल हाईवे के अधिकारियों से कहा कि वह साइट पर आकर लोगों से बात करें और शिकायतों का निराकरण करें। इसके बाद सोमवार की दोपहर एनएच के एसडीओ सरफराज कुरैशी व एक सब इंजीनियर मौके पर आए। उन्होंने तहसीलदार संजय जैन के साथ स्थानीय लोगों से बात की। खुरई रोड निवासी सचिन जैन, सत्यजीत सिंह, अमरप्रताप सिंह, श्याम दुबे, संजीव जैन, अरविंद जैन, मनीष सिंघई, वैभव दुबे, सचिन समैया, इश्मेष समैया, नवीन साहू सहित अन्य लोगों ने बताया कि कृषि उपज मंडी, सिविल अस्पताल आने तथा जाने वाले वाहन ब्रिज पर न तो सीधे चढ़ पाएंगे और न ही उतर पाएंगे। उन्हें एक-दो बार रिवर्स लेना पड़ेगा। तब एसडीओ कुरैशी ने आश्वस्त किया कि वह एक दो दिन में पुन? सर्वे कर स्थानीय लोगों के समक्ष बताएंगे कि सर्विस रोड कितनी चौड़ी रहेगी। वाहन किस तरह आ-जा सकेंगे।

पहले बनेगी सर्विस रोड

एसडीओ ने आश्वस्त किया कि ब्रिज निर्माण शुरू होने के पहले सर्विस रोड बनाई जाएगी। सर्विस रोड की चौड़ाई कितनी रहेगी, इस पर स्पष्ट जानकारी वह नहीं दे सके। बिजली के खंभों की शिफ्टिंग को लेकर भी लोगों की शिकायतों का निराकरण नहीं हो सका था। लोगों ने कहा कि 11 केवी की लाइन घरों के नजदीक से नहीं निकाली जाए।

फाइनल डिजाइन का भी करेंगे प्रदर्शन

तहसीलदार संजय जैन ने बताया कि दो दिन के अंदर एनएच के अधिकारी ब्रिज की फाइनल डिजाइन लेकर आएंगे। वह बताएंगे कि रिटेनिंग वॉल कहां से कितनी मीटर बनेगी, पिलर कहां-कहां खोदा जाएगा। सर्विस रोड कितनी चौड़ी रहेगी।

0607 एसजीआर 146 बीना। एनएच के अधिकारियों से चर्चा करते खुरई रोड के व्यापारी व अन्य।

--------------------------------------------------------------------------------------------

लघु नाटिका के माध्यम से बताया गुरू शिष्य परंपरा का महत्व

- स्वामी विवेकानंद केंद्र ने मनाई गुरूपूर्णिमा

बीना (नवदुनिया न्यूज)।

स्वामी विवेकानंद केंद्र मध्य प्रांत द्वारा गुरूपूर्णिमा घरों पर मनाई गई। कुल 135 परिवारों ने अपने घरों पर रहते हुए गुरू के चित्र पर पुप्प अर्पित किए। इस दौरान एक लघु नाटिका के माध्यम से गुरू शिष्य परंपरा का महत्व बताया गया।

कोरोना वायरस की संक्रामकता को ध्यान में रखते हुए स्वामी विवेकानंद केंद्र द्वारा घरों पर गुरू पूर्णिमा उत्सव मनाया गया। हर्ष और उल्लास के सभी ने अपने निवास पर गुरू स्वरूप ओंकार का पूजन किया। सभी ने अपने गुरू व ओंकार के चित्र के समक्ष पुष्प अर्पित किए एवं भजन-कीर्तन का आनंद लिया। इस अवसर पर परिवार के सदस्यों ने मिलकर गुरू-शिष्य परंपरा पर लघु नाटिका की। गुरू-शिष्य परंपरा के महत्व व इस उत्सव के इतिहास पर प्रस्तुति को लोगों ने सराहा। ऑनलाइन लोगों ने यह कार्यक्रम देखा। विवेकानंद केंद्र कन्याकुमारी की वाइस प्रेसिडेंट निवेदिता भिड़े द्वारा कार्यकर्ताओं के लिए दिए गए उत्सव संदेश का भी वाचन किया गया। अंत में परिवार की माताओं ने अपने समस्त कुटुंब को राष्ट्र के लिए और अपने समाज के लिए अच्छे अच्छे कार्य करने हेतु शपथ दिलाई।

0607 एसजीआर 147 बीना। गुरू शिष्य परंपरा पर लघु नाटिका प्रस्तुत करते कलाकार।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan