- हेल्दी मौसम में सेहत के अनुकूल खान-पान की बिक्री बढ़ी

राहतगढ़। नवदुनिया न्यूज

नवंबर का महीने जैसे-जैसे बीत रहा है, सर्दी भी अपना असर दिखाने लगी है। शाम के बाद मौसम में बदलाव आने से लोगों को गर्म कपड़ों का सहारा लेना पड़ रहा है। मौसम के साथ ही लोगों की दिनचर्या के साथ-साथ जायके में भी अंतर आया है। लोग खाने में गर्म तासीर की वस्तुओं का उपयोग करने लगे हैं। बाजार भी ऐसी वस्तुओं से सज गए हैं। लोगों का कहना है कि शाम के बाद सर्दी बढ़ रही हैं। देर सुबह तक बाहर बैठने पर सूरज की किरणों की चुभन की जगह गुनगुनी धूप सुहाने लगी है। शाम के बाद बाहर निकलने पर गर्म पहनने पड़ रहे हैं। देर रात तक बाहर होने पर मफलर व टोपे की जरूरत पड़ने लगी है। बाइक से आने-जाने वाले लोग बाहर जाने पर गर्म कपड़े साथ लेकर ही चल रहे हैं। वहीं किसानों के मुताबिक धीमी गति से बढ़ने वाली ठंड खेती किसानी के हिसाब से सबसे बढ़यिा मानी जाती है।

सुबह घूमने वालों की संख्या बढ़ी

सुबह के समय सैर करने वाले लोगों की संख्या अन्य सीजनों के मुकाबले सर्दी में बढ़ गई है। लोगों का कहना है कि ठंड हेल्दी सीजन होता है। इस समय किया गया व्यायाम व खुराक सालभर काम आती है। इसी के चलते लोग सुबह घूमने के साथ व्यायाम कर रहे हैं। वहीं बाजारों में भी ऐसी वस्तुओं की बिक्री बढ़ी है जो स्वास्थ्य की लिए लाभकारी होती है। लोग सुबह नाश्ते से लेकर रात्रि भोजन तक गर्म तासीर वाले व्यंजनों का उपयोग कर हैं। नगर में गजक, पिंड-खजूर, दूध, जलेबी, सादी गजक के साथ ड्रॉयफ्रूट व केसर, पिस्ता आदि दुकानें सजने लगी हैं। लोग घर में भी वे चीजों उपयोग कर रहे हैं, जिनसे पाचन शक्ति प्रबल होती है। लोग गर्म दूध, घी, गुड़, मिश्री, चीनी, खीर, आंवला, मुनक्का, गोभी तथा अन्य शक्ति प्रदान करने वाले पदार्थों का सेवन कर रहे हैं।

2111 एसजीआर 157 राहतगढ़। बाजार में गजक, पिंड खजूर सहित अन्य ट्राई फूड की डिमांड बढ़ गई है।

2111 एसजीआर 158 राहतगढ़। बच्चों के लिए गर्म कपड़े खरीदती महिलाएं।

Posted By: Nai Dunia News Network