सागर (नवदुनिया प्रतिनिधि)! जबलपुर से मकरोनिया में रिश्‍तेदार के घर आए तीन लोगों की बीती रात वापस लौटते समय फोरलेन पर हादसे में दर्दनाक मौत हो गई। दुर्घटना सिविल लाइन थाना क्षेत्र के बम्होरी-बीना फोरलेन पर बिजलीघर के पास हुई। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है।

सिविल लाइन थाना प्रभारी नेहा गुर्जर ने बताया कि रात करीब 10 बजे पुलिस को सूचना मिली कि बम्होरी-बीना फोरलेन पर पावर हाउस के पास तीन लोग घायल अवस्था पर पड़े हुए हैं। पुलिस ने तत्काल ही मौके पर जाकर देखा तो तीन लोग डिवाइडर के पास पड़े हुए थे। इनमें से जबलपुर निवासी संतोष वाल्मीकि 28 वर्ष पिता सुखराम की सांसें थम चुकी थीं, जबकि लाल साहब 41 वर्ष पिता हल्के वाल्मीकि सर्वेंट क्वार्टर मेडिकल कॉलेज जबलपुर और नंदू वाल्मीकि 45 वर्ष भी बुरी तरह घायल थे। पुलिस ने तुरंत ही उन्‍हें निजी वाहन से बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज (बीएमसी) पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने चेक करने के बाद संतोष और लाल साहब को मृत घोषित कर दिया, जबकि नंदू को इलाज के लिए भर्ती कराया गया। सुबह करीब पौने सात बजे उसने भी दम तोड़ दिया।

रजाखेड़ी में रिश्तेदारी में आए थे

पुलिस ने बताया कि तीनों युवक जबलपुर से बाइक क्रमांक एमपी-20 एनएच 4070 से मकरोनिया के रजाखेड़ी में रिश्तेदारी में आए हुए थे। सागर से जबलपुर जाते समय अज्ञात वाहन की टक्कर से वह फोरलेन के डिवाइडर से टकरा गए, जिससे उनके सिर, हाथ, पैर सीने में चोटें आईं। हादसे की सूचना उनके परिजनों और रिश्तेदारों को दी गई। तीनों शवों का मंगलवार की सुबह पीएम कराकर जबलपुर रवाना कर दिया गया। पुलिस ने मंगलवार की दोपहर चितोरा टोलनाके के फुटेज भी खंगाले, लेकिन अभी तक टक्कर मारने वाले वाहन का पता नहीं चल पाया है।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local