सागर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। मध्‍य प्रदेश मंत्रिमंडल में सागर से तीन बार के विधायक शैलेंद्र जैन को जगह नहीं मिलने से स्थानीय भाजपा कार्यकर्ता और पदाधिकारियों में अपनी ही सरकार के खिलाफ आक्रोश पनपने लगा है। संगठन पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं और विधायक के समर्थकों ने शुक्रवार को चकराघाट पर अर्द्घनग्न होकर तालाब के गंदे पानी में उतरकर विरोध जताया।

कार्यकर्ताओं का आरोप है कि प्रदेश के मुखिया दलबदलुओं के दबाव में हैं और चंद महीनों पहले दूसरे दलों से भाजपा में आए विधायकों को मंत्री बना दिया गया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंत्रिमंडल का विस्तार करते हुए 28 विधायकों को मंत्री पद से नवाजा है, लेकिन इसमें फिर सागर विधानसभा की उपेक्षा की गई है।

विधायक जैन तीन दफा भाजपा को जिताकर लाए हैं। उन्हें मंत्री बनाने की मांग एक महीने से चल रही थी। सीनियर विधायक की उपेक्षा के बाद उनके समर्थकों, भाजपा संगठन और कार्यकर्ता उपेक्षित महसूस कर रहे हैं। अपनी ही सरकार के खिलाफ भाजपाइयों द्वारा शुक्रवार को पहली दफा विरोध के स्वर गूंजे हैं।

विधायक के समर्थक व भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा के पूर्व प्रदेश पदाधिकारी मनोज रैकवार के नेतृत्व में चकराघाट पर विरोध प्रदर्शन किया गया। इसमें दर्जनों कार्यकर्ता व समर्थक पहुंचे और अर्द्घनग्न होकर तालाब के पानी में उतर गए। जमकर नारेबाजी की गई, भाजपा के झंडे लहराए और विधायक की उपेक्षा को लेकर आक्रोश जताया गया। करीब एक घंटे तक यह प्रदर्शन चलता रहा।

जैन समाज की उपेक्षा के आरोप

भाजपा की बीते साल तक रही सरकार में जबलपुर क्षेत्र से शरद जैन और बुंदेलखंड इलाके व संभाग के दमोह जिले से भाजपा के धाकड़ नेता जयंत मलैया को मंत्रिमंडल में जगह मिलती रही। बीते विधानसभा चुनावों में ये दोनों हार गए थे। इससे जैन समाज का एक बड़ा धड़ा शैलेंद्र जैन को मंत्री बनाने के लिए लॉबिंग कर रहा था। जातिगत समीकरण के चलते सागर से उनकी दावेदारी पुख्ता थी। बावजूद इसके उन्हें मंत्री पद से न नवाजे जाने के बाद समाज में भी अंदरूनी तौर पर आक्रोश पनप रहा है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020