- नवागत संभाग कमिश्नर ने नगरीय निकायों की समीक्षा बैठक में दिए निर्देश।

- कमिश्नर ने कहा गबन और भ्रष्टाचार के प्रकरणों को समय-सीमा में निपटाने, एफआईआर कराने के निर्देश।

सागर। नवदुनिया प्रतिनिधि

संभाग में सभी नगरीय निकाय अपने-अपने आय के स्रोत बढ़ाएं और करों की वसूली शत-प्रतिशत करें। जिन निकायों द्वारा वसूली में लापरवाही या हीलाहवाली की जाती हैं और कम वसूली करते हैं उन सभी निकायों को शो-कॉज नोटिस भी दिया जाए। उक्ताशय के आदेश नवागत संभाग कमिश्नर आनंद शर्मा ने दिए। उन्होंने शुक्रवार को नगरीय प्रशासन विभाग के संभागीय ज्वाइंट कार्यालय में संभाग भर की निकायों के अधिकारियों की बैठक कर समीक्षा के बाद निर्देश दिए हैं। कमिश्नर ने बैठक में प्रमुखता से पेयजल संबंधि समस्याओं को प्राथमिकता से निराकरण करने के निर्देश भी दिए।

संभाग कमिश्नर आनंद शर्मा ने शुक्रवार को संभाग की सभी नगरीय निकायों की समीक्षा बैठक कर विभिन्ना योजनाओं की समीक्षा कर सख्त निर्देश दिए हैं। संयुक्त संचालक नगरीय प्रशासन कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित बैठक में उन्होंने सबसे पहले पेयजल से जुड़ी तमाम समस्याओं और कठिनाईयों का प्राथमिकता से निराकरण करने के निर्देश परियोजना अधिकारियों को दिए। इसके अलावा उन्होंने कहा कि निकायों में आने वाले आम लोगों की समस्याओं को प्रायोरिटी में रखकर निराकृत करें। पब्लिक परेशान नहीं होना चाहिए। उन्होंने विभागीय अधिकारियों से पूछा कि जलसंरक्षण को लेकर क्या-क्या उपाय किए जा रहे हैं और क्या उपाय किए जा सकते हैं सभी अधिकारी एक सप्ताह के अंदर रिपोर्ट उपलब्ध कराएं।

अधीनस्थों पर निर्भर न रहें, खुद समस्याएं सुनें

कमिश्नर शर्मा ने कहा कि संभाग के सभी निकायों के परियोजना अधिकारी और मुख्य नगर पालिका अधिकारी अपने अधीनस्थों पर निर्भर होकर काम न करें। सभी जनता के बीच जाकर स्वयं आम जनता की समस्याओं के बारे में जाने एवं उनका निराकरण समय-सीमा में करना सुनिश्चित करें। लंबित ऑडिट आपत्तियों के मामले में कहा कि निकायों को 400 से कम आपत्तियां हैं तो एक महीने में तथा इससे अधिक आपत्तियां हैं तो तीन माह में निराकरण कराएं। उन्होंने ऑडिट आपत्तियों के निराकरण के तरीके भी बताए।

टैक्स की 100 प्रतिशत वसूली करें

संभाग कमिश्नर ने पहली ही बैठक में यह स्पष्ट कर दिया कि सभी नगरीय निकाय अपने आय के स्रोत को बढ़ाएं और आर्थिक रुप से सक्षम बनें। इसके लिए करों की वसूली में तेजी लाएं और प्रमुखता से यह तय करें कि टैक्सों की 100 प्रतिशत वसूली की जाए। जिन-जिन नगरीय निकायों ने कम वसूली की है उनको शो-कॉज नोटिस जारी करने के लिए जेडी को दिए। इसके अलावा गबन और प्रभक्षण के मामलों का समय-सीमा में निराकरण करने और ऐसे अधिकारी-कर्मचारी के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई व एफआईआर कराने के निर्देश दिए। इसके अलावा नगर निगम सहित सभी नगर पालिकाओं और नगर परिषदों के इंजीनियरों को निर्देश दिए कि काम गुणवत्तापूर्वक होना चाहिए और समय-सीमा में पूरे कराएं जाएं। बैठक में विभाग के जेडी एसके रोवाल, ईई एलएल तिवारी, विजय दुबे, निरंकार पाठक, रणजीत सिंह, ज्योति सिंह, ओपी दुबे सहित भी निकायों के सीएमओ व अन्य अधिकारी मौजूद थे।

-------------------------

फोटो- 1406 एसए- 11 सागर। संभाग कमिश्नर ने संभाग की नगरीय निकायों के अधिकारियों की बैठक लेकर निर्देश दिए।