सागर/ बंडा (नवदुनिया प्रतिनिधि)

नगर के मुक्तिधाम पर लकड़ी खत्म होने से रविवार को लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ा। मुक्तिधाम पर अंतिम संस्कार के लिए दो शव लाए गए थें, लेकिन मुक्तिधाम पर जलाने के लिए लकड़ी न होने की वजह से परेशानी हुई। लकड़ी के इंतजाम के लिए लोग दो से ढाई घंटे तक भटकते रहे, तब तक अंतिम संस्कार के लिए शवों को मुक्तिधाम पर रखना पड़ा। वहीं अंतिम संस्कार में शामिल होने गए लोग लकड़ी लाने वालों की प्रतीक्षा करते रहे। लकड़ी उपलब्ध कराए जाने की मांग को लेकर लोग नगर परिषद पहुंचे तो वहां पता चला कि वन विभाग से लकड़ियां आ ही नहीं हैं। इसके बाद लोगों ने जैसे-तैसे कर अंतिम संस्कार के लिए लकड़ियों की व्यवस्था की और वापस जाकर शवों का अंतिम संस्कार किया। इस संबंध में नगर परिषद सीएमओ ज्योति सुनहरे का कहना है कि नगर परिषद ने वन विभाग को 2 महीने पहले ही 200 फड़ लकड़ी का भुगतान कर दिया गया है, लेकिन अभी तक सिर्फ 26 फड़ ही लकड़ी प्राप्त हुई। हमने इस संबंध में पत्र भी भेजा लेकिन अभी तक कोई जवाब नहीं मिला है। उन्होंने कहा कि जब हमारे पास ही लकड़ी नहीं है तो हम कैसे उपलब्ध करा सकते हैं। वहीं बंडा वन परिक्षेत्र अधिकारी आरके द्विवेदी का कहना है कि हमारे यहां भी लकड़ियां नहीं है। हमने पूर्व में लकड़ी शाहगढ़ से और इधर उधर से मंगा कर नगर परिषद को दी थी, क्योंकि हमारे पास भी लकड़ी नहीं है तो हम भी लकड़ी कहां से लाएं। नगर परिषद को कहीं बाहर से लकड़ियों का इंतजाम करना होगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020