राहतगढ़। प्रतिवर्ष की भांति नवरात्र की सप्तमी पर झिला गांव के मां बीजासेन मंदिर से मां ज्वाला देवी मंदिर जालंधर के लिए क्षेत्र के श्रद्धालु पैदल रवाना हुए। श्रद्धालुओं ने 125 मीटर लंबी चुनरी मां ज्वाला को चढ़ाई। पैदल चुनरी यात्रा झिला से प्रारंभ होकर किशनगढ़, कचनोदा, लछनपुर के हरेभरे जंगल के रास्ते होती हुई मां ज्वाला देवी जलंधर धाम पहुंची। श्रद्धालु जय ज्वाला माई की चिंता काहे की, के जयकारों के साथ चल रहे थे। ग्रामीणों ने श्रद्धालुओं का जगह-जगह स्वागत किया गया। श्रद्धालुओं ने मां ज्वाला मंदिर की परिक्रमा कर मां ज्वाला देवी को चुनरी अर्पित की। इसके उपरांत प्रसाद वितरित किया गया।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस