सागर (नवदुनिया प्रतिनिधि)। रेलवे स्टेशन में आने वाले यात्रियों की इस गर्मी में मुश्किल बढ़ सकती है। इसका कारण यहां हर साल समाजसेवियों द्वारा संचालित की जाने वाली प्याऊ शुरू नहीं हो सकी है। श्रीराम सेवा समिति ने प्याऊ संचालन के लिए अनुमति मांगी थी, लेकिन नहीं मिली। वहीं दूसरी ओर स्टेशन पर लगी आरओ मशीन भी बंद पड़ी है। ऐसे में स्टेशन से गुजर रहे हजारों यात्रियों को ठंडे पानी की एक-एक बूंद के लिए भटकने के साथ दोगुनी राशि खर्च करने पड़ रही है। लोगों का कहना है कि श्रीराम सेवा समिति द्वारा शुरू की जाने वाली प्याऊ 24 घंटें पानी उपलब्ध कराती है। इससे यात्रियों को किसी तरह की परेशानी नहीं होती, लेकिन इस साल प्याऊ शुरू नहीं नहीं हुई। वहीं पानी वाली मशीन अक्सर बंद रहती है। इससे यात्री परेशान रहते हैं। उन्हें ठंडे पानी के लिए बाटल लेने पड़ती है। इससे 20 रुपये खर्च होते हैं। मोमू ट्रेन से दमोह जाने वाले रमेश कुमार का कहना है कि स्टेशन पर यात्रियों को शुद्ध और ठंडा पानी कम दाम पर मिले, इस उद्देश्य से आरओ मशीन लगाई गई है। लेकिन आज पानी ही नहीं मिला। प्याऊ भी बंद है। श्री कुमार के मुताबिक अभी तो गर्मी की शुरुआत है। यदि यही हाल रहता तो आगे बहुत मुश्किल होगी। उन्होंने कहा कि स्टेशन पर प्याऊ शुरू कराई जाना चाहिए। वहां कोरोना संक्रमण की गाइड लाइन का पालन करते हुए समाजसेवी अपना काम कर सकते हैं।

कोरोना संक्रमण के चलते नहीं मिली अनुमति

समाजसेवियों द्वारा प्याऊ संचालन के लिए आग्रह किया गया था लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते उसकी अनुमति नहीं दी गई। सिक्का डालकर पानी वाली मशीन चालू हैं। संभवतः आज कुछ खराबी हो। इस व्यवस्था को सुधरवाते हैं।

नरेंद्र सिंह, रेलवे स्टेशन मास्टर, सागर

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags