सागर(नवदुनिया प्रतिनिधि)। सेमरा लहरिया में हुई घटना के बाद ब्राह्मण समाज द्वारा 30 सितंबर को खेल परिसर में हुए आयोजन के बाद अब सामाजिक पदाधिकारियों के चिंतन के बाद ब्राह्मण समाज कल्याण महासभा के रूप में एक नए संगठन का गठन किया गया है। यह संगठन समाज के अंतिम पंक्ति के अंतिम व्यक्ति तक अपनी उपस्थिति दर्ज कराते हुए समाज सेवा के क्षेत्र में कार्य करेगा।

संगठन के पदाधिकारियों ने शनिवार को पत्रकारों से चर्चा में बताया कि सेमरा लहरिया में हुई घटना को लेकर पीड़ित ब्राह्मण परिवार को न्याय की उम्मीद सरकार से थी और जब ऐसा नहीं हुआ तो समाज को एकजुट होकर शासन प्रशासन के सामने उग्र तरीके से अपनी बात रखना पड़ी जिसे फिर शासन ने स्वीकार भी किया। इस आयोजन के बाद ब्राह्मण समाज को एक संगठन की आवश्यकता महसूस हुई तो सामाजिक स्तर पर इस मामले में चिंतन और मंथन करनेके बाद नया संगठन बनाया गया है। यह संगठन पूरी तरह गैर राजनीतिक होगा ताकि समाज को एक मजबूत नेतृत्व के साथ-साथ वैचारिक संगठन का स्वरूप समाज सेवा के लिए प्राप्त हो सके। संगठन में अध्यक्ष प्रदीप दुबे, महासचिव भुवनेश शर्मा, डॉ. प्रदीप पाठक, उपाध्यक्ष अजय पटैरिया, युवा अध्यक्ष दिनकर तिवारी, उपाध्यक्ष गौरव दुबे, प्रवक्ता पवन शर्मा, सचिव प्रदीप तिवारी, केके रिछारिया, तरूण तिवारी एवं कोषाध्यक्ष अभय दुबे का बनाया गया है।

समाज के लोगों पर किसी भी प्रताड़ना को सहन नहीं करेंगे

जिलाध्यक्ष प्रदीप दुबे ने कहा कि ब्राह्मण समाज कल्याण महासभा के सदस्यों ने संकल्प लिया है कि समाज के ऊपर होने वाली किसी भी प्रताड़ना को अब सहन नहीं किया जाएगा। शासन प्रशासन को इस बात का ख्याल रखना होगा कि ब्राह्मण समाज के सम्मान की सुरक्षा सुनिश्चित हो ब्राह्मण समाज आध्यात्मिक के साथ-साथ कर्मकांड और सुचिता के साथ सहयोग करने की भावना रखता है जिसका सम्मान अपेक्षित होता है। यह संगठन समाज की युवा पीढ़ी को शिक्षा सहित वैवाहिक व्यवस्था तक सहयोग करने की योजना लागू करने जा रहा है। ब्राह्मण समाज कल्याण महासभा का संकल्प है कि आर्थिक रूप से कमजोर ब्राह्मण परिवारों को हर संभव मदद की जाए।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local