Sagar News: देवरीकला (नवदुनिया न्यूज)। एक दिसंबर से देवरी नहारमऊ में पंचकल्याणक प्रतिष्ठा, गजरथ एवं प्राचीन मंदिर की वेदी प्रतिष्ठा महोत्सव शुरू होगा। यह महोत्सव 7 दिसंबर तक चलेगा। मुनि समतासागर महाराज, मुनि महासागर महाराज, मुनि निष्कंपसागर महाराज, ऐलक निश्चयसागर महाराज के सानिध्य में बाल ब्रह्मचारी विनय भैया के निर्देशन में यह महोत्सव होगा। बीना बारहा के अध्यक्ष अलकेश जैन ने बताया कि महोत्सव के पहले दिन गुरुवार को जाप, स्थापना एवं घटयात्रा निकाली जाएगी। 2 दिसंबर को सुबह ध्वजारोहण होकर गर्भ कल्याणक मनाया जाएगा। 3 दिसंबर शनिवार को गर्भकल्याणक (उत्तर रूप ) होगा एवं 4 दिसंबर रविवार को जन्म कल्याणक मनाया जाएगा। साथ ही सौधर्म इंद्र एवं इन्द्र परिवार द्वारा पांडुक शिला पर बालक आदि कुमार का जन्माभिषेक होगा। पांच दिसंबर सोमवार को दीक्षा होगी तथा मुनिराज की आहार चर्या संपन्न होकर तपकल्याणक मनाया जाएगा। 6 दिसंबर मंगलवार को कैवल्य ज्ञान कल्याणक, समवशरण से भगवान जिनेन्द्र की वाणी सुनने को मिलेगी एवं सौधर्म आदि द्वारा पूछे गये प्रश्नों का समाधान मुनिराज द्वारा दिया जाएगा। 7 दिसंबर बुधवार को आदिप्रभु को मोक्ष होगा एवं मोक्ष कल्याणक की पूजा संपन्न होगी। दोपहर एक बजे से मुनिसंघ के सानिध्य में गजरथ फेरी, मुनिराजों का संबोधन होगा।

महामंडल विधान के लिए निकाली गई घटयात्रा

घटयात्रा एवं ध्वजारोहण के साथ चौबीसी महामंडल विधान शुरू हो गया। आचार्य सौरभ सागर महाराज के सानिध्य में शुरू हुए इस आयोजन में निर्माणाधीन जैन मंदिर से कार्यक्रम स्थल द्रोणागिरी भवन तक घटयात्रा निकाली गई थी। घटयात्रा में महिलाएं कलश लेकर चल रही थीं। कार्यक्रम स्थल पर अनिल कुमार, सविता जैन द्वारा ध्वजारोहण किया गया। इस अवसर पर आचार्यश्री ने जनसमुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि यदि किसी अनजान व्यक्ति के ऊपर करुणा करते हो, सेवा, सहयोग करते हो तो समझना आपके अंदर करुणा के बहुत भाव हैं। क्रूर व्यक्ति को समझाओगे तो तुमसे लड़ेगा। बिगड़े हुए व्यक्ति के ऊपर साम्य भाव, धैर्य भाव रखो। उन्होंने कहा कि यह समझो कि उसकी पाप की परिणति उसे गलत दिशा में ले जा रही है। जब कभी किसी के प्रति कषाय उत्पन्ना होती है तो कमी स्वयं अपने अंदर में देखें उसके अंदर में नहीं। उन्होंने कहा कि मैत्री भाव प्रत्येक जीव के प्रति प्रत्येक जीव द्वारा होना चाहिए। रात्रि के समय आयोजन समिति द्वारा कवि सम्मेलन संपन्न कराया गया। जिसमें नगर के स्थानीय कवियों ने हिस्सा लिया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close