Sagar News : सागर (नवदुनिया प्रतिनिधि)। सागर में प्रस्तावित 24 किमी लंबे बायपास को लेकर कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में पीडब्ल्यूडी मंत्री गोपाल भार्गव, सांसद राजबहादुर सिंह, विधायक शैलेंद्र जैन, विधायक प्रदीप लारिया, महापौर प्रतिनिधि डा. सुशील तिवारी, कलेक्टर दीपक आर्य सहित अन्य अधिकारियों की मौजूदगी से प्रभावित लोगों से चर्चा कर सुझाव लिए गए। इस मौके पर एनएचएआई के क्षेत्रीय अधिकारी विवेक जायसवाल, अधिवक्ता कृष्ण वीर सिंह व क्षेत्रवासी मौजूद थे। चर्चा के दौरान लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव ने कहा कि सागर बायपास के निर्माण में मुख्य रूप से यह ध्यान रखा जाए कि इसमें निजी भूमि का उपयोग कम से कम हो एवं शासकीय भूमि का उपयोग अधिकतम किया जाए। इससे भू अर्जन की राशि भी शासन की बचेगी एवं प्रभावित व्यक्तियों की संख्या भी कम होगी। उन्होंने निर्देश दिए कि जो भी व्यक्ति प्रभावित हो रहे हैं उनसे चर्चा की जाए एवं आपसी समन्वय कर सागर बायपास निर्माण कार्य प्रारंभ किया जाए।

मंत्री श्री भार्गव ने कहा कि जो भी व्यक्ति का मकान, खेती, कुआं, पेड़ प्रभावित होंगे उनको शासन की गाइडलाइन के अनुसार मुआवजा दिया जाएगा लेकिन इसके पहले यह देखा जाए कि सागर बायपास निर्माण में कम से कम व्यक्तियों प्रभावित हो। उन्होंने कहा कि सागर बायपास बनने से जहां भोपाल से जबलपुर, नरसिंहपुर, छतरपुर, रहली जाने के लिए सड़क सुगम होगी, वहीं शहर का यातायात भी आसान होगा। एनएचएआई की क्षेत्रीय अधिकारी विवेक जयसवाल ने लगभग 24 किलोमीटर लंबी बाईपास के संबंध में विस्तार से पीपीटी के माध्यम से प्रेजेंटेशन दिया एवं संबंधित ग्राम वासियों की समस्याओं से अवगत भी कराया। मंत्री श्री भार्गव के निर्देश पर सभी ग्राम वासियों की समस्याओं को सूचीबद्ध किया गया है एवं उन समस्याओं का निराकरण के लिए समय सीमा में कार्य किया जाए, जिससे कि बहु प्रतीक्षित सागर बायपास का निर्माण शीघ्र गति से किया जा सके। श्री जयसवाल ने बताया कि प्रस्तावित 24 किमी बायपास 15 ग्रामों को जोड़ते हुए तैयार किया जाएगा। 15 ग्रामों में लेदरानाका, बदौना, रजौआ आमेट, मसान झिरी, कनेरा देव, मझगवां ग्रेंट, मझगवां आहिर, तालचिरी, सलैया गाजी, सुलतानपुरा, चितौरा, बेरखेड़ी गुरु, पिपरिया रामबन एवं ढाना ग्राम शामिल है। उन्होंने बताया कि 15 ग्रामों की लगभग 263 किसान प्रभावित होंगे एवं 250 कच्ची, पक्के मकान एवं कुआं सागर बायपास में प्रभावित होंगे, जिनको शासन की गाइड लाइन के अनुसार मुआवजा दिया जाएगा।

एनएचएआइ के कार्यपालन यंत्री पंकज व्यास ने बताया कि सागर बायपास के लिए यह बैठक आयोजित की गई थी। इसमें एक रेगड एलाइनमेंट के संबंध में संबंधित ग्राम वासियों से चर्चा की गई। उन्होंने बताया कि एक रेगड एलाइनमेंट से अधिक से अधिक लाभ हो और किसी भूमि को बचाते हुए शासकीय भूमि का उपयोग अधिकतम किया जाए। उन्होंने बताया कि इस बायपास से बमोरी चौराहे पर फ्लाईओवर अंडर पास भी तैयार किया जाएगा। बैठक में सांसद राज बहादुर सिंह ने कहा कि सागर शीघ्र गति से विकास कर रहा है और आने वाले दिनों में और प्रगति करेगा। उन्होंने कहा कि सागर में सड़कों का जाल बन रहा है और शीघ्र ही अब फ्लाईओवर एवं अंडर पास का जाल भी बनेगा। इससे कि यातायात सुगम हो सकेगा। विधायक शैलेंद्र जैन ने कहा कि सागर में प्रस्तावित सिविल लाइन से नगर निगम तक बनने वाली फ्लाईओवर को मोती नगर चौराहे तक बढ़ाया जाए। इससे कि ना केवल शहर का आवागमन सुगम होगा बल्कि भोपाल जाने के लिए भोपाल रोड तक पहुंचा जा सकेगा। विधायक श्री जैन ने कहा कि शहर में अत्यधिक आवागमन बड़ा बाजार में होने से यातायात हमेशा अवरूद्ध की स्थिति में रहता है। फ्लाईओवर बनने से यातायात सुगम एवं सरल होगा। विधायक प्रदीप लारिया ने मंत्री श्री भार्गव से कहा कि विश्वविद्यालय से ढाना तक फोरलाइन तैयार किया जाए। इससे कि आयोजन होने वाली दुर्घटनाओं को रोका जा सके। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय से ढाना तक फोरलाइन बनने से यहां बमोरी चौराहे पर फ्लाईओवर बन सकेगा ।वही ढाना एवं रहली तक की रास्ता आसान हो सकेगी। महापौर प्रतिनिधि डा. सुशील तिवारी ने कहा कि सागर नगर अब विकास की दृष्टि में महानगरों की तर्ज पर आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि सागर में जब मकरोनिया से सिविल लाइन और सिविल लाइन से नगर निगम चौक फ्लाईओवर तैयार होगा तब सागर विकास की राह पर अपने आप चल पड़ेगा उन्होंने कहा कि सागर में अभी अनेक विकास कार्य चल रही हैं और कई विकास कार्य पूर्ण हो गए हैं, जिससे शहर सुंदर हो रहा है।

कलेक्टर दीपक आर्य ने बैठक में कहा कि सागर बायपास के लिए मंत्री गोपाल भार्गव की अध्यक्षता में यह पहली बैठक थी। इसमें सभी ग्राम वासियों की समस्याओं से अवगत हुए और उनकी समस्याओं को सूचीबद्ध किया गया। उन्होंने कहा कि सभी समस्याओं का मौके पर जाकर निराकरण किया जाएगा, जिससे कि सागर बायपास का कार्य शीघ्र गति से प्रारंभ हो सके।

बैठक से पहले कलेक्टर ने किया गांवों का भ्रमण

प्रस्तावित बायपास की चर्चा को लेकर हुई बैठक के पहले कलेक्टर दीपक आर्य, विधायक शैलेंद्र जैन, विधायक प्रदीप लारिया, एनएचएआई के रीजनल अधिकारी विवेक जायसवाल, सुनील शर्मा, पंकज व्यास, एसडीएम सपना त्रिपाठी, तहसीलदार रोहित वर्मा, निर्मल सिंह राठौर के साथ ग्रामीण क्षेत्र के दौरे पर गए। उन्होंने लेहदरानाका, राजौआ, बदौना, आमेट, कनेरा देव, मसानझरी, सलैया, गाजी, चितौरा सहित अन्य ग्रामों में ग्राम वासियों से चर्चा की।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close