सागर(नवदुनिया प्रतिनिधि)। पंतनगर में बुंदेलखण्ड के भव्य गुलाब बाबा मंदिर का 13 वां वार्षिक उत्सव शुक्रवार को सांकेतिक रूप से मनाया जाएगा। कोरोना संक्रमण के कारण इस बार नगर यात्रा मंदिर परिसर में ही निकाली जाएगी एवं अन्य कार्यक्रम भी मंदिर में ही होंगे।

किरण पारासरे ने बताया कि भक्तों की श्रद्धा-विश्वास को बनाए रखने एवं मंदिर की परंपरा भंग न हो इसलिए 4 दिसंबर को निकलने वाली श्री गुलाब बाबा चरण पादुका पालकी नगर शोभायात्रा इस वर्ष नगर भ्रमण पर नहीं निकलेगी। मंदिर प्रांगण के अंदर सीमित भक्तों के साथ पालकी पूजन कार्यक्रम होगा, साथ ही 5 दिसंबर को समापन उत्सव के तहत होने वाला विशाल भंडारा (प्रसादी) भी नहीं होगा। सिर्फ मंदिर प्रांगण में उपस्थित भक्तों को प्रसादी मिलेगी। श्री गुलाब बाबा मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष डॉ. भरत आनंद वाखले ने बताया कि हर वर्ष 29 नवंबर को दमोह के नरसिंहगढ़ ग्राम में स्थित श्री रामबाग मंदिर से श्री गुलाब बाबा चरण पादुका पालकी यात्रा सड़क मार्ग से पैदल-पैदल आती थी उसे इस वर्ष मंदिर के भक्त अपने फोर-व्हीलर वाहन से लेकर आए एवं सादगी के साथ मंदिर परिसर के अंदर बने विशाल गुलाब सत्संग भवन में गुलाब पीठ पर पूर्ण वैदिक विधि विधान से स्थापित किया। यहां प्रतिदिन प्रातः एवं संध्या आरती, पूजन भोग कार्यों के साथ संध्या में भजन कार्यक्रम किए जा रहे है।

सचिव श्याम सोनी ने बताया कि भक्तों की आस्था विश्वास एवं दर्शन परंपरा के निर्वाहन के लिए मंदिर ट्रस्ट फेसबुक के माध्यम से संपूर्ण आयोजनों को देशभर के भक्तों तक पहुंचा रहा है। मंदिर व्यवस्थापक सतीश विश्वकर्मा अपने स्वयंसेवक साथियों के साथ जो भी समिति भक्त मंदिर दर्शनों के लिए आ रहे है उनकी सोशल डिस्टेसिंग, सैनिटाइजर की व्यवस्था संभाले हुए हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस