बीना (नवदुनिया न्यूज)। कृष्ण जन्माष्टमी पर शुक्रवार को कृष्ण जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया गया है। फूल, पत्तों और कलियां से मंदिरों में विशेष साज सज्जा की गई। मंदिरों में रात्रि 12 बजे कृष्ण जन्मोत्सव की धूम रही। मंदिर परिसर नंदलाल के जयकारों से गूंज उठे। भक्त कृष्ण भक्ति में लीन होकर नाचते नजर आए। इसके अलावा घरों में भगवान कृष्ण का अभिषेक कर माखन सहित तरह-तरह के पकवानों का का भोग लगाया गया।

कृष्ण जन्मोत्सव को लेकर सुबह से लोगों में उत्साह दिखा। बाजार में कोई भगवान के लिए नई पोशाक खरीद रहा था तो कोई बाल स्वरूप में नंद गोपाल को झुलाने के लिए झूला लेता नजर आया शाम होते-होते उत्साह और ज्यादा बढ़ गया। खासतौर से कृष्ण मंदिर में साज सज्जा से शाम को जगम मगाने लगे। स्टेशन रोड स्थित श्री बांके बिहारी मंदिर में विशेष साज सज्जा की गई थी। तहर-तरह के फूल और लताओं से मंदिर को सजाया गया था। रंग बिरंगी लाइटों मंदिर की शोभा में चार चांद लगा गए। यही नजारा जागेश्वरी मंदिर की था। मंदिर समिति के सदस्यों ने मंदिर में सुदर साज सज्जा की। इसके अलावा भगवान कृष्ण की विशेष पूजा कर उन्हें सुंदर पोशाक पहनाकर झूले में बैठाया। शहर के अन्य मंदिरों कृष्ण जन्मोत्सव को लेकर विशेष तैयारियां की गई। इसके अलावा शाम होते ही भक्त मंदिरों में पहुंचकर भगवान कृष्ण के भक्ति गीत गाते नजर आए। आधी रात तक शहर में कृष्ण जन्मोत्सव की धूम रही। इसके अलावा जन्माष्टी का पर्व हर घर में धूमधाम से मनाया गया। लोगों ने घर लड्डू गोपाल का दही, शहद और गंगा जल से अभिषेक कर तरह-तरह के भोग लगाकर विशेष आरती कर जन्मोत्सव मनाया।

मंदिरों में गूंजे जयकारे

कृष्ण जन्मोत्सव को लेकर मंदिरों में विशेष तैयारियों की गई थी। रात 12 बजे तक भक्त कृष्ण जन्म का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे। जैसे ही रात के 12 बजे मंदिर में नंद के आनंद भयो जय कन्हैया लाल के जयकारे गूंज उठे। लोगों ने एक दूसरे को कृष्ण जन्म की बधाई देकर भगवान को झूले में झुलाया। जन्मोत्सव के दौरान दर्जनों भक्त भक्ति में लीन होकर नाचते नजर आए।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close