सारनी (नवदुनिया न्यूज)। जल आवर्धन योजना के अंतर्गत बने वाटर ट्रीटमेंट प्लांट को बिजली पहुंचाने के काम में तेजी आ गई है। नगर पालिका ने इस कार्य में लगी कंपनी को निर्देश दिए हैं कि जल्द से जल्द काम पूरा करें जिससे लोगों को शुद्ध पेयजल घरों में मिल सके। पहले यह योजना दो साल में पूरी होना थी, लेकिन कोरोना काल के कारण पांच साल पूरे हो गए हैं इसके बाद भी काम चल रहा है। हालांकि दो से तीन माह में नगर पालिका क्षेत्र में जल आवर्धन योजना का पानी लोगों के घरों तक पहुंचने उम्मीद जताई जा रही है। जल आवर्धन योजना में वाटर ट्रीटमेंट प्लांट तक बिजली पहुंचाना किसी चुनौती से कम नहीं था करीब ढाई किलोमीटर तक बिजली के तार बिछाए जाना हैं। वही कुछ स्थानों पर अंडर ग्राउंड केबल बिछाया जा रहा है। जल्द ही वाटर ट्रीटमेंट प्लांट तक बिजली पहुंचते ही टेस्टिंग का कार्य किया जाएगा। इसके बाद नगरपालिका के 36 वार्डों में पानी पहुंचेगा। जल आवर्धन योजना के प्रोजेक्ट मैनेजर मनोज कोड़ले ने कहा कि नगरपालिका के वार्डों में शुद्ध पेयजल पहुंचाने के लिए तेजी से काम किया जा रहा है। वाटर ट्रीटमेंट प्लांट तक बिजली का काम लगभग समाप्ति की ओर है। ट्रीटमेंट प्लांट की बिजली चालू होने के बाद से टेस्टिंग का कार्य किया जाएगा। इसके बाद वार्डों में पेयजल पहुंचाने का कार्य शुरू किया जाएगा। नगर पालिका सीएमओ सीके मेश्राम ने कहा कि लोगों को शुद्ध पेयजल मुहैया कराना नगर पालिका की प्राथमिकता है। जल आवर्धन योजना का काम अंतिम चरणों में है।लोगों को दो से तीन माह के भीतर शुद्ध पेयजल मिलने लगेगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close