बीना (नवदुनिया न्यूज)। जौनपुर उत्तरप्रदेश में मदरसे में बढ़ने वाले दो बच्चे घर वालों को बताए बिना मुंबई जा रहे थे। दोनों शुक्रवार को गोरखपुर-दादर एक्सप्रेस से बीना स्टेशन पहुंचे। आन ड्यूटी आरपीएफ एएसआई अपूर्व राज की नजर इन बच्चों पर पड़ गई। पूछताछ में पता चला कि मदरसे भागकर बच्चे मुंबई जा रहे थे। बच्चों की सुरक्षा को देखते हुए आरपीएफ ने दोनों को चाइल्ड लाइन सागर भेज दिया है। आरपीएफ द्वारा की गई पूछताछ में 13 और 14 साल के बच्चों ने बताया कि वह जौनपुर उत्तरप्रदेश के मदरसे में पढ़ते हैं। इनमें से एक बच्चे का पिता मुंबई में काम करता है। वह अपने पिता से मिलने मदरसे से भागकर अपने दोस्त को साथ लेकर मुंबई जा रहा था। यात्रा के दौरान दोनों बीना स्टेशन पर उतर गए। बच्चों को अलेका देख आरपीएफ एएसआई ने उन्हें अपनी अभिरक्षा में लेकर चाइल्ड लाइन सागर में सूचना दी। चाइल्ड लाइन से अधिकारियों के आने पर दोनों को उनके सुपुुर्द कर दिया गया।

जमीन विवाद पर गोली चलाने का आरोप

बीना। जमीन के विवाद पर एक किसान ने मलिया गांव निवासी एक व्यक्ति पर गोली चलाने का आरोप लगाया है। सेमरखेड़ी निवासी किसान श्रवण पिता सुदामा सिंह (35) का आरोप है कि उन्होंने मलिया गांव के 8 आदिवासियों की जमीन ठेके पर ली है। इसे लेकर मलिया गांव का बाबूलाल दीवान रंजिश रखते हैं। वह पहले भी विवाद कर चुके हैं। वह जमीन ठेके पर लेने के एवज में 50 हजार रुपये मांग रहे थे। रुपये न देने पर वह शुक्रवार सुबह करीब 10 बजे अपने बेटे आशीष दीवान, शैलेंद्र दीवान और छोटू दीवान के साथ के साथ खेत पर आए और विवाद करने लगे। किसानों ने इसका विरोध किया तो उन्होंने जान से मारने की धमकी दी। किसान अपनी मोटर साइकिल उठाकर वापस जाने लगा तो बाबूलाल ने गोली चला दी। यह गोली किसान की मोटर साइकिल में लगी। किसान डरकर मोटर साइकिल छोड़कर भाग गया। बाद में आकर देखा तो बाइक जली हुई हालत में पड़ी हुई थी। किसान का आरोप है कि बाबूलाल दीवान ने ही उसकी बाइक में आग लगाई है। किसान की शिकायत पर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। इस संबंध में थाना प्रभारी लखन डाबर का कहना है कि दोनों पक्षों के बीत जमीन को लेकर विवाद चल रहा है। इसलिए मामले की जांत की जा रही है। जांच में यदि गोली चलाने और बाइक में आग लगाने की घटना सही पाई जाएगी तो दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close