बीना। रुसल्ला पंचायत में मुख्य सड़क के बाजू में लगे ट्रांसफार्मर का करंट पानी फैल गया, इससे एक गोवंश की मौत हो गई। हड़कलजैन निवासी प्रदीप ठाकुर ने बताया कि बारिश के पहले ट्रांसफार्मर से लेकर तारों का मेंटेनेंस नहीं किया गया है। तेज हवा चलने या बारिश होने पर सप्लाई बंद हो जाती है। मंगलवार को भी ट्रांसफार्मर का कोई तार खंभे से टच हो गया इससे ट्रांसफार्मर के पास भरे पानी में करंट फैल गया। पास से निकलने रही गाय करंट की चपेट में गई, जिससे उसकी मौत हो गई। ग्रामीणों ने बताया कि मरम्मत नहीं की गई तो किसी भी दिन दुखद घटना हो सकती है।

--------------------------------------------------------------------------------------------------

शिक्षक को सेवानिवृत्ति पर विदाई दी

बीना। प्राथमिक शाला रामपुर में पदस्थ शिक्षक ब्रजकिशोर चौरसिया के सेवानिवृत्त होने पर ग्रामीणों ने विदाई दी। वह लगातार 7 साल स्कूल रामपुर स्कूल में सेवाएं दे रहे थे। समय पर स्कूल आना और एक-एक बच्चे पर ध्यान देते हुए शिक्षा का स्तर सुधारने में उन्हें परिश्रम किया है। अभिभावकों को बुलाकर बच्चों का कमजोर पक्ष बताकर उसमें सुधार के लिए जरुरी सुझाव देना और बच्चों को घर पर पढ़ने की आदात डालने को लेकर उन्होंने सराहनीय काम किया। उनके इसी सुभाव के चलते ग्रामीणों ने स्कूल पहुंचकर शाल श्रीफल देकर सम्मान किया और विदाई दी। इस अवसर पर स्कूल स्टाफ से रामकिशोर दीक्षित, रमेश चौधरी, माधुरी ओझा उपस्थित रहीं।

3006 एसजीआर 148 बीना। सेवानिवृत्त होने पर शिक्षक ब्रजकिशोर चौरसिया को शाल श्रीफल देकर सम्मानित करते ग्रामीण।

-------------------------------------------------------------------------------------------------

स्कूल फीस मांगे जाने का विरोध किया

बीना। कोरोना संक्रमण काल में स्कूलों को नहीं खोले जाने के आदेश शासन द्वारा दिए गए हैं। लॉकडाउन पीरियड में भी स्कूल बंद रहे, बावजूद कुछ स्कूल प्रबंधनों द्वारा अभिभावकों पर फीस के लिए दवाब बनाया जा रहा है। इसके विरोध में अभिभावक एसडीएम अमृता गर्ग से मिले और विरोध दर्ज कराया। अभिभावकों ने बताया कि इस संबंध में उन्होंने बीईओ जेड इक्का से बात करने की कोशिश की थी, लेकिन उनका फोन रिसीव नहीं हुआ था। तब एसडीएम ने मामले की जानकारी कर उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया।

3006 एसजीआर 149 बीना। एसडीएम अमृता गर्ग से शिकायत करते अभिभावक।

-------------------------------------------------------------------------------------------

घटना के दूसरे दिन पुलिस ने लिए परिजनों के बयान, कंपनी के खिलाफ होगा मामला दर्ज

सब्जी मंडी के पास पिलर के लिए खोदे गए गड्ढे में डूबने से हुई थी तीन बच्चों की मौत

बीना (नवदुनिया न्यूज)।

पानी में डूबकर मृत हुए तीन बच्चों का सिविल अस्पताल में पोस्टमार्टम हुआ। पोस्टमार्टम उपरांत बच्चों के शव परिजनों के सुपुर्द किए गए। उसके बाद उनका अंतिम संस्कार हुआ। दूसरी ओर शाम को पुलिस ने मर्ग कायम कर बच्चों के माता-पिता के बयान दर्ज किए हैं। कंपनी की लापरवाही सामने आने पर कंपनी के अधिकारियों के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज किया जाएगा। ब्रिज निर्माण कर रही अमर कंस्ट्रक्शन कंपनी द्वारा पिलर के लिए खोदे गए गड्ढे में डूबने से तीन बच्चों की सोमवार को मृत्यु हो गई थी। पुलिस ने मृतक कान्हा पिता बबलू पंथी 9 वर्प, उमेश पिता बबलू पंथी 12 वर्प तथा मुलू पिता रामू आदिवासी 16 वर्प के शवों को पानी से बाहर निकाला और पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल पहुंचाया। चूंकि शवों को निकालने में रात हो गई थी, इसलिए मंगलवार की सुबह डॉक्टर्स की टीम ने बच्चों का पोस्टमार्टम किया। इसके बाद बच्चों का नईबस्ती मुक्तिधाम में अंतिम संस्कार हुआ। इधर पुलिस ने मर्ग कायमी कर मामले की जांच शुरू की। मामले में साक्षियों के बयान लेने का सिलसिला दूसरे दिन तक जारी रहा। टीआई कमल सिंह ने बताया कि अभी बयान लिए जा रहे हैं। पूरी जानकारी आने के बाद जिम्मेदारों के विरुद्ध प्रकरण दर्ज किया जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना