महापौर एवं निगमायुक्त ने काकागंज वार्ड स्थित ट्रैफिक पार्क निर्माण कार्य का निरीक्षण किया

सागर। नवदुनिया प्रतिनिधि

अमृत योजना के तहत सागर में काकागंज इलाके में बनाए जा रहे ट्रैफिक पार्क निर्माण में घटिया निर्माण और डीपीआर के अनुसार काम न होने की शिकायत के बाद महापौर अभय दरे, आयुक्त आरपी अहिरवार और स्मार्ट सिटी सीईओ निरीक्षण करने पहुंचे थे। यहां पार्क में कदम रखते हुए पोल खुल गई। महापौर व अधिकारियों ने पार्क के अंदर जाकर जहां-जहां निरीक्षण किया, वहीं गुणवत्ताहीन व घटिया निर्माण सामने आया। महापौर तमतमाए और साथ चल रहे आयुक्त को निर्देश दिए कि ठेकेदार और मॉनीटरिंग करने वाली कंसल्टेंसी कंपनी एजिस को नोटिस दिया जाए और बिल की राशि से कटौती कर पार्क में नियमानुसार व गुणवत्ता के हिसाब से काम हो। आयुक्त ने तुरंत साथ चल रहे सहायक यंत्री को निर्देश जारी कर दिए।

नगर निगम द्वारा अमृत योजना के तहत 65 लाख की लागत से काकागंज वार्ड में बनाए जा रहे ट्रैफिक पार्क का महापौर अभय दरे, निगमायुक्त आरपी अहिरवार एवं स्मार्ट सिटी सीईओ राहुल सिंह ने नगर निगम के इंजीनियर के साथ पार्क निर्माण कार्य का निरीक्षण करने पहुंचे थे। इस दौरान पार्क का निर्माण कार्य गुणवत्तापूर्ण न होने एवं कार्य में गंभीर लापरवाही पाए जाने पर महापौर ने नाराजगी जताते हुए कंसल्टेंसी एजिस कंपनी एवं ठेकेदार को नोटिस देने के निर्देश निगमायुक्त को दिए। महापौर ने कहा पार्क में कर्वस्टोन को गलत तरीके से लगाया गया है जो अभी से उखड़ना शुरू हो गए है, गुणवत्ताहीन पेवर ब्लॉक लगाए गए हैं तथा टाईल्स सड़क के 4 इंच ऊपर होना चाहिए, जो नहीं लगाए गए है एवं जिस स्थान पर बच्चों के झूले लगाए जाना है, वहां गोलाकार की बाउंड्री को ठीक तरह से नहीं बनाया गया है, जबकि उसे चौड़ा कर उस पर ग्रेनाईट लगाकर तैयार किया जाना था, उन्होंने दीवार पर पुट्टी कराने के बाद ही पुताई कराने, पार्क में अलग-अलग रंग के गुलाब के पौधों की क्यारी बनाने, कारपेट ग्रास लगाने, पार्क में माली की व्यवस्था करने जिससे पौधों की जानकारी हो। पार्क में मिट्टी की फिलिंग सही न करने के बावजूद भी पौधे लगाए गए हैं जो गलत है। महापौर ने कहा कि पार्क में गुणवत्ताहीन कार्य किया जा रहा है, जिससे शासकीय राशि का दुरुपयोग हो रहा है, उन्होंने निगमायुक्त से तत्काल कार्रवाई कर कार्य को ठीक तरह से कराने के निर्देश दिए।

निगमायुक्त आरपी अहिरवार ने कहा कि पार्क का कार्य शीघ्र पूर्ण किया जाए, उन्होंने कहा कि सिटी को अपग्रेड किया जा रहा है, जिस प्रकार स्मार्ट सिटी के पार्क बनाए गए हैं, उसी प्रकार इसे भी तैयार किया जाए। उन्होंने गीले कचरे से खाद बनाने के लिए चार नाडेप दो दिन में बनाए जाएं, जिनसे गीले कचरे से खाद तैयार की जाएगी जो पार्क के काम आ आएगी। पार्क में ओपन एयर थियेटर, गुलाब गार्डन, ओपन जिम, बच्चों के लिए झूले, यातायात के नियमों की जानकारी एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए स्टेज बनाया जाएगा। उन्होंने ठेकेदार एवं कंल्सटेंसी एजिस को नियमानुसार कार्य करने के निर्देश दिए। कार्य में लापरवाही पाए जाने पर निगमायुक्त ने ठेकेदार व कंसल्टेंट एजिस की राशि से कटौती करने के निर्देश सहायक यंत्री रमेश चौधरी को दिए। निरीक्षण के दौरान कंसल्टेंसी एजिस के अधिकारी, ठेकेदार मनोज जैन, सहायक यंत्री रमेश चौधरी, उपयंत्री महादेव सोनी सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

-------

फोटो- 0412 एसए- 19, 27 सागर। ट्रैफिक पार्क में घटिया निर्माण कार्य पर फटकार लगाते महापौर, आयुक्त और सीईओ।

Posted By: Nai Dunia News Network